महाराष्ट्र प्रौद्योगिकी संस्थान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
महाराष्ट्र प्रौद्योगिकी संस्थान
संस्थान का लोगो
संस्थान का लोगो

आदर्श वाक्य:संस्कृत: यन्त्र-तन्त्रादि विज्ञानम्। लोक कल्याण साधनम्॥
("समाज कल्याण हेतु विज्ञान और प्रौद्योगिकी का उपयोग")
स्थापित1983
प्रकार:निजी संस्थान
मान्यता/सम्बन्धता:पुणे विश्वविद्यालय
अध्यक्ष:विश्वनाथ डी कारड
अध्यक्ष:भास्कर ई अव्हाद
उपाध्यक्ष:ऍच. ऍम. गणेश राव
प्रधानाचार्य:ऍल के क्षीरसागर
डीन:शरदचन्द्र दराडे (पाटिल), देबज्योति मुखोपाध्याय (शोध व विकास)
अवस्थिति:पुणे, महाराष्ट्र, भारत
(18°31′04″N 73°48′53″E / 18.5177°N 73.8148°E / 18.5177; 73.8148निर्देशांक: 18°31′04″N 73°48′53″E / 18.5177°N 73.8148°E / 18.5177; 73.8148)
जालपृष्ठ:www.mitpune.com


8929359037 महाराष्ट्र प्रौद्योगिकी संस्थान, भारत के महाराष्ट्र राज्य में पुणे नगर में स्थित एक अभियान्त्रिकी संस्थान है। यह संस्थान महाराष्ट्र अभियान्त्रिकी व शैक्षणिक शोध अकादमी (Maharashtra Academy of Engineering & Educational Research (MAEER'S)) समूह का सबसे पहला संस्थान है।[1] यह 1983 में विश्वनाथ डी कारड द्वारा स्थापित किया गया था और यह महाराष्ट्र में निजी क्षेत्र के सर्वप्रथम महाविद्यालयों में से एक है।

प्रवेश[संपादित करें]

संस्थान में दाखिला कैप (CAP) राउण्ड के माध्यम से किया जाता है। प्रति वर्ष ऍमआईटी में प्रवेश के लिए बड़ी संख्या में आने वाले विदेशी नागरिकों के लिए विशेष प्रावधान किया जाता है। पूर्वस्नातक स्तर के दाखिले जेईई व कुछ अन्य मानदण्डों के आधार पर किए जाते हैं[2], स्नाकोत्तर स्तर पर दाखिले डीटीई महाराष्ट्र सरकार और सावित्रीबाई फूले पुणे विश्वविद्यालय के द्वारा बनाए गए नियमों के आधार पर होते हैं[3], और ऍमबीए के दाखिले डीटीई महाराष्ट्र सरकार और पुणे विश्वविद्यालय द्वारा बनाए गए नियमों के आधार पर होते हैं[4]

पाठ्यक्रम[संपादित करें]

ऍमआईटी पूर्वस्नातक स्तर पर अभियान्त्रिकी की डिग्रियाँ (बी.ई.) नौ विषयों में प्रदान करता है:

स्नाकोत्तर डिग्रियाँ (ऍम.ई.) निम्नलिखित विषयों में प्रदान की जाती हैं:

  • पॅट्रोलियम इंजीनियरिंग
  • सिविल स्ट्रक्चर्स
  • निर्माण और प्रबन्धन
  • कम्प्यूटर इंजीनियरिंग
  • डिज़ाइन इंजीनियरिंग
  • ऊष्मा ऊर्जा
  • सूचना प्रौद्योगिकी
  • पॉलिमर इंजीनियरिंग
  • इलैक्ट्रॉनिक्स डिजिटल सिस्टम
  • पाइपिंग डिज़ाइन और इंजीनियरिंग

डाक्टरेट की उपाधियाँ इन विषयों में प्रदान की जाती हैं:

  • पॅट्रोलियम इंजीनियरिंग
  • भूविज्ञान

प्रांगण[संपादित करें]

ऍम.आई.टी. पुणे का प्रांगण 17 एकड़ में फैला हुआ है। विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों के अतिरिक्त, इस प्रांगण में विश्व शान्ति केन्द्र भी स्थित है जो यूनेस्को का मानवाधिकार, लोकतन्त्र, शान्ति और सहनशीलता का प्रभारी है और 12 मई 1998 को यहाँ स्थापित किया गया था[1]। इसके अतिरिक्त प्रांगण में कैण्टीन, सांगली बैंक और बैंक ऑफ़ इण्डिया की शाखाएँ, एक सभागार, चिकित्सालय, और एक ध्यान-केन्द्र की सुविधाएँ भी उपलब्ध हैं। डा. विश्वनाथ डी कारड को व्यापक रूप से उनके समीकरण ॐ = mc2 के लिए जाना जाता है।

शोध और विकास[संपादित करें]

शोध, विकास, और नवोन्मेष की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए, ऍमआईटी पुणे के प्राणंग में ऍमआईटी अनुसन्धान और नवोन्मेष उत्कृष्टता केन्द्र (MIT Center of Excellence for Research & Innovation (MITCERI))[5] की स्थापना की गई थी। इसका तात्कालिक लक्ष्य प्राध्यापकों और स्नातक और स्नातकोत्तर स्तर के विद्यार्थियों को उनके प्रोजॅक्ट कार्यों में शोध और विकास के तत्वों को सम्मिलित करने के लिए प्रोत्साहित करना था। ऍमआईटी अनुसन्धान केन्द्र इस कार्य को विभिन्न कार्यक्रमों के द्वारा पूर्ण करता है जैसे राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलनों का आयोजन, शोध पद्धति पर कार्यशालाओं का आयोजन, औद्योगिक- और शिक्षा-क्षेत्र से प्रख्यात शोधकर्ताओं द्वारा दिया अतिथि व्याख्यान इत्यादि। ऍमआईटी क्यूब 2012 अन्तर्रष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी सम्मेलन और प्रदर्शनी के आयोजकों में से एक था।[6] पुणे विश्वविद्यालय भूविज्ञान शोध केन्द्र ऍमआईटी के पॅट्रोलियम विभाग में कार्यरत है।[7]

प्रशिक्षण और रोज़गार प्रकोष्ठ[संपादित करें]

विद्यार्थियों को व्यवहार-कुशलता, समूहिक-चर्चा और अभिक्षमता परीक्षा क्षमताओं के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है और साथ ही में साक्षात्कार सम्बन्धी तकनीकें भी सिखाई जाती हैं। प्राध्यापकों और विद्यार्थियों के लिए विश्व विख्यात औद्योगिक संगठनों द्वरा विशेष प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों का भी आयोजन किया जाता है ताकि सदैव-परिवर्तनशील औद्योगिक आवश्यकताओं के प्रति उन्हें दक्ष बनाया जा सके। ऍमआईटी पुणे, राष्ट्रीय उद्यमिता तन्त्र (NEN) के साथ मिलकर बहुत से उद्यमिता सम्बन्धित प्रशिक्षण कार्यक्रमों का भी आयोजन करता है।

भगिनी संस्थान[संपादित करें]

ऍमआईटी अभियान्त्रिकी महाविद्यालय और ऍमआईटी अभियान्त्रिकी अकादमी, महाराष्ट्र प्रौद्योगिकी संस्थान के भगिनी संस्थान है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. About The Group Archived 19 अक्टूबर 2015 at the वेबैक मशीन. (अंग्रेज़ी)
  2. UG Admission Archived 19 अक्टूबर 2015 at the वेबैक मशीन. (अंग्रेज़ी)
  3. PG Engineering Admission Archived 8 अप्रैल 2015 at the वेबैक मशीन. (अंग्रेज़ी)
  4. MBA Admission Archived 16 मार्च 2015 at the वेबैक मशीन. (अंग्रेज़ी)
  5. Message From The Dean (R&D) Archived 19 अक्टूबर 2015 at the वेबैक मशीन. (अंग्रेज़ी)
  6. CUBE 2012 Archived 19 अप्रैल 2012 at the वेबैक मशीन. (अंग्रेज़ी)
  7. Research & Development Archived 19 अक्टूबर 2015 at the वेबैक मशीन. (अंग्रेज़ी)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]