महानाम सम्प्रदाय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
महानाम सम्प्रदाय
बांग्ला: মহানাম সম্প্রদায়
Prabhu Jagadbandhu.jpg
प्रभु जगद्बन्धु considered avatar by Mahanam Sampraday
स्थापना 1891 as movement[1]
संस्थापक प्रभु जगद्बन्धु (inspirator)
Sripad Mahendraji (organisator)
स्थापना हुई बंगाल, ब्रिटिश भारत
प्रकार Hindu denomination
Religious organization
उद्देश्य Educational, Philanthropic, Religious studies, Spirituality
मुख्यालय Mahaudharon Math, Maniktala, कोलकाता, भारत
श्रीअंगन, फरीदपुर, बांग्लादेश
स्थान
  • ashrams/temples, dispensary, medical camps, schools
सेवित क्षेत्र
क्षेत्र
भारत और बांग्लादेश
सदस्यता
more than 1 million
आधिकारिक भाषाs
बांग्ला
Previous head
महानामव्रत ब्रह्मचारी
Current head (India)
उपासक बंधु ब्रह्मचारीजी
Current head (Bangladesh)
कांति बंधु ब्रह्मचारीजी
प्रमुख लोग
Dr.महानामव्रत ब्रह्मचारी
संबद्धता Vaishnavism
जालस्थल mahanam.org

महानाम सम्प्रदाय ( बांग्ला: মহানাম সম্প্রদায় ) एक कृष्णवादी नव वैष्णव सम्प्रदाय है जिसकी स्थापना बंगाल में श्रीपद महेन्द्र जी ने [2] 19वीं शताब्दी के अन्तिम काल और 20वीं सदी के आरम्भिक काल में किया। वर्तमान में इस संप्रदाय के अनुयायी पश्चिम बंगाल, भारत और पूरे बांग्लादेश में हैं। राधा कृष्ण, गौर निताई और प्रभु जगत्बन्धु इस सम्प्रदाय के प्रमुख देवी-देवता हैं।

यह सभी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Carney, Gerald T. (2020). "Baba Premananda Bharati: his trajectory into and through Bengal Vaiṣṇavism to the West". प्रकाशित Ferdinando Sardella; Lucian Wong (संपा॰). The Legacy of Vaiṣṇavism in Colonial Bengal. Routledge Hindu Studies Series. Milton, Oxon; New York: Routledge. पपृ॰ 135–160. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-138-56179-3. pp.140–141.
  2. Mahanambrata Brahmachari. Mahendra Leelalamrita. Kolkata. पृ॰ 26.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]