भारतीय वाद्य यंत्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
हाथ में एकतारा ली हुई एक भारतीय स्त्री
राजा रवि वर्मा द्वारा चित्रित कादम्बरी सितार बजाते हुए
पुलुवन् पुत्तु बजाती एक महिला
जलतरंग
Chenda (top) and Chande (below) are different drums.

200 ईसा पूर्व से 200 ईसवीं सन् के समय में भरतमुनि द्वारा संकलित नाट्यशास्‍त्र में ध्‍वनि की उत्‍पत्ति के आधार पर संगीत वाद्यों को चार मुख्‍य वर्गों में विभाजित किया गया है:[1]

  • 1. तत् वाद्य अथवा तार वाद्य
  • 2. सुषिर वाद्य अथवा वायु वाद्य ( हवा के वाद्य )
  • 3. अवनद्व वाद्य और चमड़े के वाद्य ( ताल वाद्य ; झिल्ली के कम्पन वाले वाद्ययंत्र )
  • 4. घन वाद्य या आघात वाद्य ( ठोस वाद्य, जिन्‍हें समस्‍वर स्‍तर में करने की आवश्‍यकता नहीं होती। )

तारयुक्त वाद्ययंत्र[संपादित करें]

सरस्वती वीणा
चित्रवीणा

वायु से बजने वाले वाद्ययंत्र[संपादित करें]

बाँसुरी[संपादित करें]

सपेरा बीन बजाते हुए

Free reed[संपादित करें]

Free reed and bellow[संपादित करें]

Brass[संपादित करें]

Other wind instruments[संपादित करें]

Percussion instruments[संपादित करें]

Membranophones[संपादित करें]

Hand drums[संपादित करें]

बला / tabl / chameli - goblet drum

  • [[तबਤਬਲਾ

ला]]

तंबाकूनेर, जम्मू और कश्मीर से गॉलेट ड्रम

Hand frame drums[संपादित करें]

  • Daff, duff, daf or duf - medium or large frame drum without jingles, of Persian origin
  • Dimdi or dimri - small frame drum without jingles
  • Kanjira - small frame drum with one jingle
  • Kansi - small without jingles
  • Patayani thappu - medium frame drum played with hands

Stick and hand drums[संपादित करें]

Stick drums[संपादित करें]

  • Chande
  • Nagara - pair of kettledrums
  • Pambai - unit of two cylindrical drums
  • Parai thappu - medium frame drum played with two sticks
  • Sambal
  • Stick daff or stick duff - daff in a stand played with sticks
  • Tamak'
  • Tasha - type of kettledrum
  • Urumee

Idiophones[संपादित करें]

Melodic[संपादित करें]

एलेक्ट्रानिक[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. भारत के संगीत वाद्य (सांस्‍कृतिक स्रोत एवं प्रशिक्षण केन्‍द्र)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]