राजा बीरबल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(बीरबल से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search
राजा बीरबल
बीरबल [भट्ट ब्राह्मण]
बीरबल
जन्ममहेश दास भट्ट
1528
टिकवनपुर, उत्तरप्रदेश, भारत
निधनअप्रैल एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित < ऑपरेटर।, 1586 (उम्र एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित < ऑपरेटर।)
स्वात घाटी, आज पाकिस्तान]
जीवनसंगीउर्वशी देवी
संतानसौदामिनी (पुत्री)
पेशाअकबर के साम्राज्य में दरबारी और सलाहकार

बीरबल (1528-1586) : असली नाम:महेश दास या महेश दास भट्ट, मुगल बादशाह अकबर के प्रशासन में मुगल दरबार का प्रमुख वज़ीर (वज़ीर-ए-आजम) था और अकबर के परिषद के नौ सलाहकारों में से एक सबसे विश्वस्त सदस्य था जो अकबर के नवरत्नों थे यह संस्कृत शब्द है जिसका अर्थ नौ रत्न है। उनका जन्म एक कायस्थ परिवार में हुआ था वह बचपन से ही तीव्र बुद्धि के थे। बचपन में उनका नाम महेश दास था। उनकी बुद्धिमानी के हजारों किस्से हैं जो बच्चों को सुनाए जाते हैं। माना जाता है कि 1586 मे अफगानिस्तान के युद्ध के अभियान में एक बड़ी सैन्य मंडली के नेतृत्व के दौरान बीरबल की मृत्यु हो गयी।

बचपन[संपादित करें]

बचपन का नाम महेश दास था बचपन से ही वो बहुत ही चतुर एवेम बुद्धिमान थे। बीरबल जाति से दुबे ब्राह्मण थे और उनका जन्म मध्यप्रदेश के सीधी जिले के घोघरा गांव में हुआ था। वहां आज भी उनकी 37वीं पीढ़ी के लोग रह रहे हैं।

अकबर के दरबार में[संपादित करें]

अकबर के दरबार में अकबर ने इन्हें "वीर वर" का खिताब दिया, चलते चलते वह बीरबल होगया।

अकबर के दरबार में बीरबल का ज्यादातर कार्य सैन्य और प्रशासनिक थे तथा वह सम्राट का एक बहुत ही करीबी दोस्त भी था, सम्राट अक्सर बुद्धि और ज्ञान के लिए बीरबल की सराहना करते थे। ये कई अन्य कहानियो, लोककथाओं और कथाओ की एक समृद्ध परंपरा का हिस्सा बन गए हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]