बनी खालिद

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

बनी खालिद (अरबी: بني خالد) या अल-खल्दी परिवार, एक अरब जनजातीय संघ है। इस जनजाति ने 15 वीं शताब्दी से 18 वीं तक इराक और पूर्वी सऊदी अरब (अल-हासा और अल-कतिफ) के दक्षिणी क्षेत्र पर शासन किया था। और फिर 1 9वीं शताब्दी की शुरुआत में तुर्क साम्राज्य के अनुदान के तहत। इसकी सबसे बड़ी सीमा पर, बानी खालिद का क्षेत्र उत्तर में इराक से दक्षिण में ओमान की सीमा तक फैला, और बनी खालिद ने शासन करके राजनीतिक प्रभाव बनाए रखा मध्य अरब में नेजद का क्षेत्र। जनजाति के अधिकांश सदस्य वर्तमान में पूर्वी और मध्य सऊदी अरब में रहते हैं, जबकि अन्य कुवैत, कतर, बहरीन, फिलिस्तीन, सीरिया और संयुक्त अरब अमीरात में रहते हैं। बनी खालिद शिया मुस्लिम [1][2][3] और सुन्नी मुस्लिम दोनों हैं।.[4][5]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Yitzhak Nakash (2011)for Power: The Shi'a in the Modern Arab World Archived 31 जुलाई 2017 at the वेबैक मशीन. p. 22
  2. "Arabia, history of." Encyclopædia Britannica. 2007. Encyclopædia Britannica Online. 30 Nov. 2007 "Archived copy". मूल से 29 August 2006 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2007-12-01.सीएस1 रखरखाव: Archived copy as title (link) साँचा:Quote needed
  3. Nakkashसाँचा:Verification needed
  4. Louër, Laurence (2012). Transnational Shia Politics: Religious and Political Networks in the Gulf (अंग्रेज़ी में). C. Hurst, Publishers, Limited. पृ॰ 17. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9781849042147. मूल से 31 जुलाई 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 31 July 2017.
  5. Potts, Daniel T. (1989). Miscellanea Hasaitica (अंग्रेज़ी में). Museum Tusculanum Press. पृ॰ 14. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788772890685. मूल से 31 जुलाई 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 31 July 2017.