पुलवामा ज़िला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
पुलवामा ज़िला
Pulwama District.svg

जम्मू और कश्मीर में पुलवामा ज़िले की अवस्थिति
राज्य जम्मू और कश्मीर, Flag of India.svg भारत
मुख्यालय पुलवामा
क्षेत्रफल 1,086 कि॰मी2 (419 वर्ग मील)
जनसंख्या 560,440[1] (2011)
जनसंख्या घनत्व 598/किमी2 (1,550/मील2)
शहरी जनसंख्या 80,462
साक्षरता 63.48
लिंगानुपात 912
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र अनन्तनाग
आधिकारिक जालस्थल

पुलवामा ज़िला भारतीय राज्य जम्मू और कश्मीर का एक ज़िला है। ज़िले का क्षेत्रफल १,०८६ वर्ग किमी है तथा पुलवामा कस्बा ज़िले का मुख्यालय है। यह ज़िला १९७९ में अस्तित्व में आया। अत्यधिक धान के खेती के कारण इस ज़िले को "धान का कटोरा" की भी उपाधि दी गयी है। यह कश्मीर घाटी के श्रीनगर और अनन्तनाग के मध्य राष्ट्रीय राजमार्ग ४४ पर स्थित है।

तहसील[संपादित करें]

पुलवामा ज़िले में सात तहसीलें हैं:[2]

इस ज़िले में पाँच ब्लॉक हैं: त्राल, केलर, पम्पोर, पुलवामा और काकापोरा।[3]

जनसांख्यिकी[संपादित करें]

पुलवामा ज़िले में धर्म
धर्म प्रतिशत
इस्लाम
  
95.49%
हिन्दू
  
2.47%
सिक्ख
  
1.68%
ईसाई
  
0.20%
बौद्ध
  
0.01%
उल्लेख नहीं किया
  
0.15%

२०११ जनगणना के अनुसार पुलवामा ज़िले की जनसंख्या ५,६०,४४० है, जिसमे २९३,०६४ पुरुष तथा २६७,३७६ महिलाएँ हैं।[1] यह जनसंख्या लगभग सोलोमन द्वीप के बराबर है।[4] इस प्रकार से जनसंख्या के अनुसार इस ज़िले भारत के ६४० ज़िलों में स्थान ५३५वाँ स्थान है।[1] यहाँ का जनसंख्या घनत्व 598 प्रत्येक वर्ग किलोमीटर में निवासी (1,550/वर्ग मील) है।[1] इस ज़िले में २००१-११ के दौरान दशकीय जनसंख्या वृद्धि दर २७% रही।[1] ज़िले की लिंगानुपात दर ९१२ है तथा साक्षरता दर ६३.४८% है। ज़िले की १४.३६% जनसंख्या नगरीय क्षेत्रों तथा ८५.६४% जनसंख्या ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करती है।[1]

धर्म[संपादित करें]

यहाँ का प्रमुख बहुसंख्यक धर्म इस्लाम है, जो कि कुल जनसंख्या का ९५.४९% है। अन्य अल्पसंख्यक धर्म हिन्दू २.४७%, सिक्ख १.६८%, ईसाई ०.२०%, बौद्ध ०.०१% हैं। ०.१५% लोगों ने अपने धर्म का उल्लेख नहीं किया है।[1]

आतंकी हमला

पुलवामा जिले में गुरुवार 14 फरवरी 2019 को जैश-ए-मोहम्मद के एक भीषण फिदायिन हमले में सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हो गये और कई अन्य बुरी तरह घायल हो गये। जैश के आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों को ले जा रही बस को टक्कर मार दी, जिसमें कम से कम 44 जवान शहीद हो गये। यह 2016 में हुए उरी हमले के बाद सबसे भीषण आतंकवादी हमला है। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के 2500 से अधिक कर्मी 78 वाहनों के काफिले में जा रहे थे। इनमें से अधिकतर अपनी छुट्टियां बिताने के बाद अपनी ड्यूटी पर लौट रहे थे। जम्मू कश्मीर राजमार्ग पर अवंतिपोरा इलाके में लाटूमोड पर इस काफिले पर अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे घात लगाकर हमला किया गया।आत्मघाती हमलावर उस वाहन को चला रहा था जिसमें 100 किग्रा विस्फोटक रखा हुआ था। वह गलत दिशा में वाहन चला रहा था और उसने जिस बस पर सीधी टक्कर मारी उसमें 39 से 44 सुरक्षा कर्मी यात्रा कर रहे थे।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Census2011 (2011). "Pulwama District : Census 2011-2019 data". Census2011.co.in. अभिगमन तिथि 20 फरवरी 2019.
  2. "Archived copy". मूल से 2014-05-28 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2014-12-17.
  3. Statement showing the number of blocks in respect of 22 Districts of Jammu and Kashmir State including newly Created Districts Archived 2008-09-10 at the वेबैक मशीन. dated 2008-03-13, accessed 2008-08-30
  4. US Directorate of Intelligence. "Country Comparison:Population". अभिगमन तिथि 2011-10-01. Solomon Islands 571,890 July 2011 est.

बाहरी कड़ियां[संपादित करें]