पदमंजरी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पदमंजरी काशिकावृत्ति का भाष्य है। इसके रचयिता हरदत्त हैं जिन्होंने आपदस्तम्ब के धर्मसूत्र का भी भाष्य लिखा है। यह ग्यारहवीं शदी की रचना है।