सामग्री पर जाएँ

देवी चित्रलेखाजी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

चित्रलेखा एक भारतीय प्रसिद्ध कथा वाचक[1] और आध्यात्मिक वक्ता हैं जो अपनी प्रेरक वार्ताओं[2] और धर्मोपदेश के लिए प्रसिद्ध हैं।

देवी चित्रलेखाजी
Devi Chitralekha Ji (Vaishya Caste)
Received World Book of Records
जन्मJanuary 19, 1997
जीवनसंगीMadhav Ji Tiwari
धर्मHindu

जन्म[संपादित करें]

चित्रलेखा[3] का जन्म 19 जनवरी 1997 को ब्राह्मण परिवार, गांव खम्बी, जिला पलवल, हरियाणा (भारत) में हुआ था।

परिवार[संपादित करें]

उनकी माता श्रीमती चमेली देवी और पिता श्री टीकाराम शर्मा जी है। चित्रलेखा का एक भाई है और चित्रलेखा विवाहित[4] है।

शिक्षा[संपादित करें]

चित्रलेखा ने केवल 4 वर्ष की आयु में गौड़ीय वैष्णव (चैतन्य महाप्रभु द्वारा स्थापित) समाज की दीक्षा एक बंगाली बाबा, जिन्हें श्री श्री गिरधारी बाबा के नाम से जाना जाता है ,केवल 7 वर्ष की छोटी-सी आयु में उनका यह सफर शुरू हुआ था, जो अब तक जारी है।[5]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "फैक्ट चेक: बुर्कानशीं भागवत कथावाचक? नहीं, फर्जी है ये तस्वीर". आज तक. 2021-07-09. अभिगमन तिथि 2023-02-22.
  2. "Devi Chitralekha (Vaishya Caste): 'लोग पूजा के नाम पर मां गंगा को प्रदूषित कर रहे'". www.abplive.com. 2021-06-12. अभिगमन तिथि 2023-02-22.
  3. "देवी चित्रलेखा करेंगी ताजनगरी में श्रीमद्भागवत कथा". Hindustan (hindi में). अभिगमन तिथि 2023-02-22.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  4. "Fact Check : देवी चित्रलेखा के पति के संबंध में आपत्तिजनक और फेक पोस्‍ट वायरल". Dainik Jagran. अभिगमन तिथि 2023-02-22.
  5. "Chitralekha Katha: कथावाचक चित्रलेखा यहां सुनाएंगी भागवत कथा, राधे गोविंद की भक्ति में झूम उठेगा देवरीराज". News18 हिंदी. 2023-02-10. अभिगमन तिथि 2023-02-22.