चांगपा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
चांगपा बंजारा
चांगपा चरवाहा लड़की
तिब्बत में एक चांगपा बंजारा परिवार

चांगपा (Changpa) या चाम्पा तिब्बती मूल का एक बंजारा मानव समुदाय है जो भारत के जम्मू और कश्मीर राज्य के लद्दाख़ क्षेत्र के चांगथंग इलाके में बसते हैं। इनकी कुछ संख्या तिब्बत में आने वाले चांगथंग के भाग में भी रहती है जिनमें से कुछ को चीन की सरकार ने चांगथंग प्राकृतिक संरक्षित क्षेत्र की स्थापना पर ज़बरदस्ती अन्य इलाको में बसाया था। तिब्बतीलद्दाख़ी भाषाओं में "चांगपा" का अर्थ "चांग(थंग) के लोग" है। अनुमान है कि सन् १९८९ में चांगथंग में लगभग ५ लाख चांगपा रह रहे थे।[1][2][3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Goldstein, Melvyn; Beal, Cynthia (1990). Nomads of Western Tibet। Berkeley, CA, USA: University of California Press. pp. 60. ISBN 0-520-07211-1.
  2. Rizvi, Janet (1999). Trans-Himalayan Caravans. Oxford University Press. pp. 301. ISBN 0-19-564855-2.
  3. Champa by B.R Rizvi in People of India Jammu and Kashmir Volume XXV edited by K.N Pandita, S.D.S Charak and B.R Rizvi pages 182 to 184 Manohar ISBN 8173041180