घासीराम यादव

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

घासीराम यादव (15 नवंबर 1924-30 नवंबर 1998) भारतीय राजनीतिज्ञ तथा पूर्व अलवर से लोकसभा सांसद हैं।[1] येे कांग्रेस पार्टी से जुड़े हैं। ये "मैं राजस्थान सरकार बोल रहा हूं" के तकियाकलाम से प्रसिद्ध हैं।[2]

राजनैतिक सफर[संपादित करें]

घासीराम यादव 1952 में नायब तहसीलदार की नौकरी छोड़ चुनाव में मुण्डावर विधान सभा क्षेत्र से खड़े हुए व जीते। 1957 में भी ये मुण्डावर से जीते। 1962 में उनको मुण्डावर की जगह बहरोड़ विधानसभा का टिकट दिया। वहां भी ये जीत गए। फिर 1967 में ये बहरोड़ में अमीलाल से हार गए। फिर 1972 में ये दोबारा बहरोड़ से जीते। लेकिन 1977 में इन्होंने मुण्डावर से चुनाव लड़ा तो हार गए। हालांकि इसके बाद 1980 में ये मुण्डावर से ही विधायक बन गए। 1990 में ये पुनः विधायक चुने गए। फिर 1993 में भी ये विधायक बने। अंत में 1997 में ये सांसद चुनाव जीत कर लोकसभा में आए। इस प्रकार ये छः बार विधायक और एक बार सांसद चुने गए हैं।[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Biographical Sketch of Member of 12th Lok Sabha". 164.100.47.194. मूल से 2 फ़रवरी 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2020-01-28.
  2. "अलवर के इस कद्दावर नेता की पहचान थी राजस्थान सरकार, फोन पर कहते, 'मैं राजस्थान सरकार बोल रहा हूं', सुनकर हिल जाता था प्रशासन". Patrika News (hindi में). मूल से 4 नवंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 जुलाई 2020.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)