खारदुंग ला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(खारदोंग ला दर्रा से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search
खारदुंग ला दर्रा
खारदोंग ला

खारदुंग ला
ऊँचाई 5,359 m (17,582 ft)
स्थिति
स्थिति लद्दाख, भारत
शृंखला हिमालय, लद्दाख सीमा
निर्देशांक 34°16′42″N 77°36′15″E / 34.27833°N 77.60417°E / 34.27833; 77.60417निर्देशांक: 34°16′42″N 77°36′15″E / 34.27833°N 77.60417°E / 34.27833; 77.60417
खारदुंग ला दर्रा

खारदुंग ला दर्रा हिमालय का एक पहाड़ी दर्रा है, जो लद्दाख के भारतीय केंद्र शासित प्रदेश के लेह जिले में है। इसे "खारदोंग ला" या "खर्दज़ॉंग ला" के नाम से भी जाना जाता है।

लद्दाख सीमा पर यह दर्रा लेह के उत्तर तथा श्योक और नुब्रा घाटियों के प्रवेशद्वार पर है। सियाचिन हिमनद अवस्थित भाग उत्तरार्ध्द घाटी तक का रास्ता है। १९७६ में निर्मित इसे १९८८ में सार्वजनिक मोटर वाहनों के लिए खोला गया था। सीमा सड़क संगठन द्वारा अनुरक्षित यह दर्रा भारत के लिए रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि इसका उपयोग सियाचिन हिमनद में आपूर्ति करने के लिए किया जाता है।

खारदुंग ला की ऊँचाई ५,३५९ मीटर (१७,५८२ फीट) है।[1] स्थानीय शिखर संकेत और लेह में शर्ट बेचने वाले दर्जनों दुकानदार यह भ्रांतिपूर्ण दावा हैं कि इसकी ऊँचाई ५,६०२ मीटर (१८,३७९ फीट) के है और यह दुनिया का सबसे ऊँचा यांत्रिक(मोटरेबल) दर्रा(पास) है।

इतिहास[संपादित करें]

खारदुंग ला ऐतिहासिक रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि यह मध्य एशिया के लेह से काशगर तक जाने वाले प्रमुख कारवां मार्ग पर स्थित है।

स्थान[संपादित करें]

खारदुंग ला में एक स्मारक
खारदुंग ला कार्यालय तथा दुकान

खारदुंग ला लेह सड़क मार्ग से ३९ किमी. की दूरी पर है। पूर्व में, पहले २४ किमी. जहां तक दक्षिण पुल्लू चेक प्वाइंट था वहाँ से उत्तर पुल्लू चेक प्वाइंट तक सड़क मार्ग से लगभग १५ किमी की दूरी पर मुख्य रूप से ढीली चट्टान, गंदगी और यदाकदा पिघली बर्फ के नाले थे। अब वह पूरी तरह से पक्का कर दिया गया है। नुब्रा घाटी की निकटवर्ती सड़क बहुत अच्छी तरह से बनी हुई है (कुछ स्थानों को छोड़कर जहां शिला स्खलन होता है)। किराए के वाहन (दो और चार-पहिया वाहन), भारी ट्रक और मोटरसाइकिल नियमित रूप से नुब्रा घाटी में यात्रा के लिए जाते हैं, हालाँकि यात्रियों के लिए विशेष अनुमति की आवश्यकता होती है।

सैकड़ों जीपीएस सर्वेक्षणों से ५,३५९ मीटर (१७,५८२ फीट) ऊँचाई माप एसआरटीएम डाटा, एएसटीईआर जीटीईएम डाटा और रूसी स्थलाकृतिक मानचित्रण से मेल खाता है। यह मोटे तौर पर कई जीपीएस रपट के अनुरूप है।

पहुँच[संपादित करें]

निकटतम बड़ा शहर लेह है। लेह मनाली और श्रीनगर से सड़क द्वारा जुड़ा हुआ है और दैनिक उड़ानें दिल्ली से संचालित होती हैं। लेह से नुब्रा घाटी के लिए एक दैनिक बस सेवा खारदुंग ला के ऊपर से गुजरती है जो कि एक अनुभवी ड्राइवर या बाइक से किराए की कार से भी पहुँचा जा सकता है। खारदुंग ला के दोनों ओर दो ठिकाने उत्तर पुल्लू और दक्षिण पुल्लू हैं।

इनर लाइन परमिट (आईएली), जिसे लेह में जिला आयुक्त कार्यालय से प्राप्त किया जा सकता है, पर्यटकों के लिए आवश्यक है (लद्दाख के नागरिकों के लिए आवश्यक नहीं)। लोगों को एन(ईएन) रूट में जाँच करवाना आवश्यक है और प्रत्येक चेकपॉइंट पर जमा किए जाने वाले परमिट की प्रतिलिपि प्रदान करनी भी आवश्यक है।

बर्फ के कारण सड़क लगभग अक्टूबर से मई तक बंद रहती है।

दीर्घा[संपादित करें]

जलवायु[संपादित करें]

खारदुंग ला के जलवायु आँकड़ें
माह जनवरी फरवरी मार्च अप्रैल मई जून जुलाई अगस्त सितम्बर अक्टूबर नवम्बर दिसम्बर वर्ष
औसत उच्च तापमान °C (°F) −19
(−2)
−18
(0)
−14
(7)
−11
(12)
−5
(23)
1
(34)
7
(45)
7
(45)
1
(34)
−8
(18)
−14
(7)
−18
(0)
−7.6
(18.6)
औसत निम्न तापमान °C (°F) −36
(−33)
−34
(−29)
−31
(−24)
−25
(−13)
−15
(5)
−9
(16)
−6
(21)
−6
(21)
−10
(14)
−18
(0)
−25
(−13)
−31
(−24)
−20.5
(−4.9)
औसत वर्षा मिमी (inches) 29
(1.14)
41
(1.61)
53
(2.09)
38
(1.5)
28
(1.1)
9
(0.35)
9
(0.35)
8
(0.31)
8
(0.31)
8
(0.31)
13
(0.51)
22
(0.87)
266
(10.45)
स्रोत: [2]

महत्व[संपादित करें]

यह लेह से नुब्रा घाटी जाने का मार्ग प्रदान करता है। यह विश्व का सबसे ऊंचा मोटर वाहन चलाने योग्य दर्रा है। परिवहन, व्यापार, युद्ध अभियान तथा मानवीय प्रवास में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "DGPS Document supplied by the Cartographic Institute of Catalonia" (PDF). मूल (PDF) से 18 मार्च 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 23 मई 2020.
  2. https://www.meteoblue.com/en/weather/forecast/modelclimate/khardūng-la_india_1266938