क्लाज़ एब्नेर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
क्लाज़ एब्नेर

क्लाज़ इब्नेर (Klaus Ebner), (जन्म: सन १९६४, वियना) ऑस्ट्रिया के एक प्रख्यात लेखक, निबंधकार, कवि, तथा अनुवादक हैं। वियना मे पले-बढ़े क्लाज़ ने छोटी आयु से ही लिखना शुरू कर दिया था। प्रमुख पत्रिकायों मे उनकी कहानियाँ सन् १९८० से ही प्रकाशित होनी शुरू हो गई थीं। सन् १९८० से क्लाज़ निबंध एवं सॉफ्टवेयर पर पुस्तकें लिख रहे हैं। इनकी रचनायें मुख्यत: जर्मन और कटालान भाषा मे लिखित हैं। आपने फ्रांसीसी एवं कटालान साहित्य को जर्मन भाषा में अनुवाद भी किया है। वे कई ऑस्ट्रियाई लेखक संगठनों के सदस्य है, जिसमे ग्रेज़र ऑटोरिनेन ऑटोरेंवरसामलुंग (Grazer Autorinnen Autorenversammlung) प्रमुख है। आपके निबंध मुख्यत: कटालान विषयों एवं यहूदी संस्कृति पर आधारित हैं। आपका पहला लघु-कथाओं का संग्रह सन् २००७ मे प्रकाशित हुआ था। सन् २००८ मे आपने अपनी पुस्तक होमीनाइड (Hominide) का प्रकाशन किया। क्लाज़ कई साहित्यिक पुरस्कारो से सम्मानित किये जा चुके हैं। इनमे युवा पुरस्कार अर्स्टर ऑस्टेरीशिस्षर जुगेंड्प्रीस (Erster Österreichischer Jugendpreis) (१९८२) प्रमुख है। ऑस्ट्रिया के विख्यात टिप्पनीकार वूल्फ़गैंग रैट्ज़ (Wolfgang Ratz), ने इब्नेर के लेखन की प्रशंसा की है। क्लाज़ इब्नेर अपने परिवार के साथ वियना में रहते हैं।

जीवनी[संपादित करें]

क्लाज़ इब्नेर का जन्म ८ अगस्त १९६४ को वियना में हुआ था। इब्नेर की माता इंगेबॉर्ग (जन्म: १९४४), एक केश-सज्जक थीं जबकि उनके पिता वाल्टर (१९३९-१९९६) १९७० के दशक से घरेलु मनोरंजन उपकरणों के विक्रेता थे।[1] उनकी बहन का जन्म १९६९ मे हुआ तत्पश्चात उनका परिवार पलायन कर गया। इब्नेर की शिक्षा माध्यमिक विद्यालय मे आठ वर्ष तक चली। उन्होने इस दौरान अपनी पहली रचना लिखी। बारह वर्ष की उर्म मे उन्होने अपना पहला रंगमंचीय नाटक लिखा तथा अपने मित्रो के साथ इसके मंचन के लिए अपने विधालय में इसकी तैयारी भी की हालाँकि इसको कभी भी मंच पर प्रस्तुत नही किया जा सका।[1]

१९८२ में अपनी एक महीने की फ्रांस यात्रा के पश्चात इब्नेर ने, वियना के विश्वविद्यालय मे रोमांस भाषा, जर्मन भाषा-शास्त्र तथा अनुवाद का अध्ययन शुरु किया।[2] इसी दौरान उन्होने कई साहित्यिक संस्थायों और वियना की साहित्यिक पत्रिकायों के लिए लेखन किया। १९८८ तथा १९८९ मे स्नातक की शिक्षा के पश्चात उन्होने अपना ध्यान, एक अनुवादक, विदेशी भाषायों के अध्यापक एवं एक सूचना प्रौद्योगिकी परियोजना जैसे व्यवसायों पर केन्दित किया। १९९० में इब्नेर ने कंप्यूटर सॉफ़्टवेयर तथा नेटवर्किंग जैसे विषयों पर कई लेख और पुस्तकों को लिखा। हालाँकि इनकी अधिकतर पुस्तकें जर्मन भाषा में थीं पर उन्होने कई लेख अंग्रेजी में भी लिखे।[3] १९९९ मे वो छः सप्ताह तक उत्तरी केरोलिना में रहे और इस दौरान उन्होने पी.सी.सर्वर से संबंधित एक अंग्रेज़ी पुस्तक का सह-लेखन किया।[4]

२००१ मे वियना के अनुप्रयोग विज्ञान विश्वविद्यालय में यूरोपीय अर्थशास्त्र का अध्ययन करते हुए उन्होने यूरोप में इस्लाम पर एक लेख लिखा जो कि २००१ में जर्मनी में प्रकाशित हुआ। उन्होने मुस्लिम सभ्यता से जुड़ी कई कहानियाँ भी लिखी जैसे कि “स्नैपशॉट” (Momentaufnahme) तथा “उड़ान-622”(Flug sechs-zwo-zwo) आदि।[5]

कार्य[संपादित करें]

स्कूली शिक्षा के बाद एब्नेर ने कई छोटे छंद, कविताएं तथा रेडियो के नाटक लिखे। उनकी रचनाएं कई साहित्यिक एवं सांस्कृतिक पत्रिकायों मे छपीं जैसे कि स्टर्ज़ (Sterz) जो कि स्टायरिया (Styria), ऑस्ट्रिया की एक प्रसिद्ध साहित्यिक पत्रिका है, तथा लेसेज़िरकेल (Lesezirkel) जो की एक वियना के दैनिक समाचारपत्र वियनेर ज़ीतुंग (Wiener Zeitung) के स्वामित्व के आधीन थी। १९८७ मे उनके पहले बेटे के जन्म के साथ ही उनके कार्य मे हुई वृद्धि के परिणाम्स्वरूप उनके लेखन मे थोड़ा अंतराल आया। १९९० के दशक मे उन्होने अपना ध्यान अपने उपन्यास Feuers Geraun पर केंद्रित रखा। इस उपन्यास के दो शुरुआती संस्करण ऑस्ट्रियाई पत्रिका दाइ राम्पे (die Rampe) में छपे थे, १९९४ में (Der Schreiber von Aram) तथा १९९७ में (Das Gesetz)। यह अध्याय यहूदी तथा बाइबल संस्कृति पर आधारित है। एब्नेर के जालस्थल पर २००४ तक सिर्फ ६ प्रकाशनों की उल्लेख है जबकि २००५ से २००८ के बीच १७ प्रकाशन का उल्लेख किया गया है।[6]

एब्नेर ने साथ ही साथ कथात्मक अभिव्यक्ति (उपन्यास, छोटी कहानियाँ, छंद), निबंध तथा कहानियाँ भी लिखी हैं। उनकी कविताएं जर्मन तथा कटालान भाषा मे लिखित है।[7] ऑस्ट्रियाई सरकार की सहायता से एब्नेर २००७ मे अंडोरा गये, जहां उन्होने पायरेनीज़ के देशों पर निबंध रचना की। उन्होने कटालान लेखक जोसफ नवारो सैंटेयूलेलिया के कटालान उपन्यास ले’अब्सेंट (L'Absent) का जर्मन मे अनुवाद भी किया, जो ने लिखा है। इब्नेर के साहित्यिक निबंध जो कटालान साहित्य जैसे की बारसीलोना तथा अंडोरा पर हे, पत्रिका Literatur und Kritik तथा Zitig मे प्रकाशित हुए। उनकी पहली छोटी कहानियाँ Lose (Destinies)२००७ मे प्रकाशित हुई। उनकी ४५ कहानियाँ मे से २२ कहानियाँ अखबार तथा साहित्यिक पत्रिका मे प्रकाशित हो चुकी हैं। २००८ मे एब्नेर की २ कथात्मक अभिव्यक्ति की किताबें प्रकाशित हुईं जिसमे एक छोटा उपन्यास होमीनाइड था।[8]

लेखन शैली[संपादित करें]

इब्नेर की छोटी कहानियाँ कई विषयो का संग्रह है। जुलिया रफेल ने अपनी टिपणी मे कहा है की ये कहानियाँ सामाजिक समस्यओ पर है, तथा सही है।[9]

साहित्य पुरस्कार[संपादित करें]

  • २००८ Arbeitsstipendium सब्सिडी सरकार द्वारा ऑस्ट्रियाई[10][11]
  • २००७ Wiener Werkstattpreis 2007, वियना[12]
  • २००७ Reisestipendium für Literatur सब्सिडी सरकार द्वारा ऑस्ट्रियाई
  • २००७ Premio Internazionale di Poesia Nosside (menzione), रेजिया कलाब्रिया
  • २००५ Feldkircher Lyrikpreis (चौथे) काव्य पुरस्कार
  • २००४ La Catalana de Lletres 2004 (menció) काव्य पुरस्कार, बार्सिलोना
  • १९८८ Erster Österreichischer Jugendpreis युवा पुरस्कार के लिए एक उपन्यास
  • १९८४ Hörspielpreis TEXTE (तीसरा) रेडियो खेल पुरस्कार के द्वारा साहित्यिक पत्रिका TEXTE
  • १९८२ Großer Österreichischer Jugendpreis युवा पुरस्कार के लिए साहित्य'


प्रकाशन (पुस्तकों)[संपादित करें]

प्रकाशनों में कॅटलन[संपादित करें]

  • El perquè de tot plegat; कविता, में: La Catalana de Lletres 2004, Cossetània Edicions, बार्सिलोना २००५, ISBN 84-9791-098-2
  • Capvespre venecià; कविता, में: Jo Escric.com, पाल्मा द माल्योर्का

अन्यान्य सम्पर्क[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Biographical note on the author's official website, retrieved on 2009-02-12.
  2. Austrian National Library; entries about the magazine Texte, retrieved on 2009-02-13, Vienna 1983-1986.
  3. NT Update, issues 9, 10, 14ff., xephon, लंदन 1999-2002.
  4. Credle, R., Ebner, K., Greco, J., and Re Ferrè, M. (1999): "Migrating IBM Netfinity Servers to Microsoft Windows 2000", page X, ITSO Redbook, ISBN 0-7384-1524-3.
  5. GAV members' list, entry about Klaus Ebner, retrieved on 2009-02-12.
  6. Sterz nr. 25/1983 and 99/2006.
  7. Info on the books "Auf der Kippe" (book presentation), and "Hominide" (critical review by Karin Gayer, both in German and retrieved on 2009-10-29.
  8. Anthology publication list on the author's official homepage, retrieved on 2009-02-12, which indicates the respective publishing year.
  9. Ratz, W.: Critic review of the book Auf der Kippe, in: Literarisches Österreich nr. 2 (2008), pages 20-21.
  10. Literaturhaus Wien, biography, retrieved on 2009-10-29.
  11. Annual Report of the Austrian Department of Culture, “Kunstbericht 2008”, p. 72, retrieved on 2010-05-03.
  12. Annual Report of the Austrian Department of Culture, “Kunstbericht 2007”, p. 71, retrieved on 2010-05-03.