ओबेरॉन (उपग्रह)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
ओबेरॉन
Oberon in true color by Kevin M. Gill.jpg
वॉयेजर द्वितीय यान द्वारा २४ जनवरी १९८६ को ली गयी एक ओबेरॉन की तस्वीर
खोज
खोज कर्ता विलियम हरशॅल
खोज की तिथि जनवरी 11, 1787
उपनाम
विशेषण ओबेरोनियन /ɒbəˈrniən/[1]
अर्ध मुख्य अक्ष 5,83,520 km
विकेन्द्रता 0.0014
परिक्रमण काल 13.463234 दिन
औसत परिक्रमण गति 3.15 km/s (परिकलित)
झुकाव 0.58 ° (अरुण की भूमध्य रेखा से)
स्वामी ग्रह अरुण
भौतिक विशेषताएँ
माध्य त्रिज्या 761.4±2.6 km (0.1194 पृथ्वियाँ)
तल-क्षेत्रफल 72,85,000 km²[a]
आयतन 1,84,90,00,000 km³[b]
द्रव्यमान 3.76±0.87×१०21 kg[2]
माध्य घनत्व 1.63±0.5 g/cm3
विषुवतीय सतह गुरुत्वाकर्षण0.354 m/s²[c]
पलायन वेग0.734 km/s[d]
घूर्णन समकालिक परिकल्पित
अल्बेडो
  • 0.31 (ज्यामितीय)
  • 0.14 (बॉण्ड)
तापमान 70–80 K
सापेक्ष कांतिमान 14.1

ओबेरॉन अरुण (युरेनस) ग्रह का एक उपग्रह है। अकार में यह अरुण का दूसरा सब से बड़ा उपग्रह है (पहला स्थान टाइटेनिआ को जाता है)। टाइटेनिआ की तरह, ओबेरॉन भी बर्फ़ और पत्थर की लगभग बराबर मात्राओं से बना हुआ है। इसकी सतह बर्फ़ीली और अन्दर का केंद्रीय भाग पत्थरीला है। संभव है के बाहरी बर्फ़ और अंदरूनी पत्थर के बीच में एक पानी की मोटी परत हो, लेकिन इसका पूरा प्रमाण अभी नहीं मिल पाया है। सतही बर्फ़ में अन्य पदार्थों के मिले होने के कारण इस उपग्रह का रंग थोड़ा लाल है। इसकी सतह पर अंतरिक्ष से गिरे हुए उल्कापिंडों की वजह से बहुत से बड़े गढ्ढे भी हैं, जिनमें से सब से बड़े गढ्ढे का व्यास २१० किमी है। वॉयेजर द्वितीय यान के जनवरी १९८६ में अरुण के पास से गुज़रने पर ओबेरॉन की सतह के लगभग ४०% हिस्से के नक्शे बनाए जा चुके हैं। अरुण के पांच बड़े चंद्रमाओं में से ओबेरॉन सब से अधिक दूरी पर अरुण की परिक्रमा करता है।

अकार[संपादित करें]

ओबेरॉन का अकार गोल है। इसका औसत व्यास लगभग १५२३ किमी है। इसके मुक़ाबले में पृथ्वी के चन्द्रमा का व्यास लगभग ३,४७४ किमी है, यानि की ओबेरॉन का अकार हमारे चन्द्रमा के आधे से ज़रा छोटा है। ओबेरॉन के पत्थरीले केंद्र का व्यास ९६० किमी है जिसके ऊपर बर्फ़ और संभवतः एक पानी की परत है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  1. Normand (1970) Nathaniel Hawthorne
  2. R. A. Jacobson (2014) 'The Orbits of the Uranian Satellites and Rings, the Gravity Field of the Uranian System, and the Orientation of the Pole of Uranus'. The Astronomical Journal 148:5


सन्दर्भ त्रुटि: "lower-alpha" नामक सन्दर्भ-समूह के लिए <ref> टैग मौजूद हैं, परन्तु समूह के लिए कोई <references group="lower-alpha"/> टैग नहीं मिला। यह भी संभव है कि कोई समाप्ति </ref> टैग गायब है।