ओपेक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

पेट्रोलियम निर्यातक देशों का संगठन (ओपेक) यानी (Organization of the Petroleum Exporting Countries) एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है। दुनिया के जिन देशों में तेल निकलता है उन देशों ने मिलकर इस संगठन को बनाया है।

पेट्रोलियम निर्यातक देशों का संगठन (ओपेक)
ध्वज
मुख्यालयवियना, ऑस्ट्रिया
अधिकारिक भाषा अंग्रेज़ी
प्रकार अंतरराष्ट्रीय सम्पादक संघ[1]
सदस्य देश
नेताओं
 -  जनरल सिक्रेट्री मोहम्मद बरकिंडो
स्थापना बगदाद, इराक
 -  क़ानून सितंबर 1960 
 -  प्रभाव में जनवरी 1961 
मुद्रा Indexed as USD per barrel (US$/bbl)
जालस्थल
OPEC.org
ओपेक (Organization of the Petroleum Exporting Countries (OPEC)) पेट्रोलियम उत्पादक 14 देशों(2018 में कतर के बाहर हो जाने के बाद) का संगठन है। इसके सदस्य हैं: सऊदीअरब, अल्जीरिया, ईरान, ईराक, कुवैत, अंगोला, संयुक्त अरब अमीरात,  नाइजीरिया, लीबिया तथा वेनेजुएला, गबोन, गिनी, कांगो।कांगो


[इंडोनेेशिया, कतर इसके पूर्व सदस्य थे]

OPEC के अस्तित्व में आने के बाद शुरुआत में 5 वर्षों तक इसका मुख्यालय जिनेवा ( स्वीजरलैंड ) में था किन्तु 1 September 1965 को इसका  मुख्यालय आस्ट्रिया के वियना में स्थानांतरित कर दिया गया था!

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  1. "Glossary of Industrial Organization Economics and Competition Law" (PDF). OECD. 1993. पृ॰ 19. मूल से 4 March 2016 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 22 December 2015.
  2. "Member Countries". OPEC. मूल से 7 जनवरी 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 जनवरी 2020.
  3. OPEC 172nd Meeting concludes. प्रेस रिलीज़. 11 March 2019. http://www.opec.org/opec_web/en/press_room/4305.htm. अभिगमन तिथि: 26 May 2017. 
  4. Ministry of Energy and Non-Renewable Natural Resources (2020-01-02) (Spanish में). Comunicado Oficial. प्रेस रिलीज़. https://www.recursosyenergia.gob.ec/comunicado-oficial-7/. अभिगमन तिथि: 2020-01-06.