एस्किमो

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

एस्किमो, "का शाबदिक अर्थ_ कच्चा मॉस खाने वाला" एस्किमों जनजाति मंगोल प्रजाति से सम्बन्धीत है।

निवास क्षेत्र[संपादित करें]

उत्तरी ध्रुवीय क्षेत्र के चारो ओर ग्रीनलैण्ड से लेकर पश्चिम में अलास्का और बेरिंग जलडमरु मध्य के पार साइबेरिया के उत्तरी-पूर्वी चुकची प्रायद्वीप क्षेत्र तक एक पतली पट्टी में एस्किमो लोगो का निवास पाया जाता हैं। वार्षीक औसत तापमान 0 डीग्री सैल्शियस से भी नीचे रहता है। कठोर जलवायु में लगभग 10 लाख एस्किमों विगत दस हजार वर्षों से रह रहे है।

बस्तियां[संपादित करें]

इनके निवास बर्फ की सिल्लियों को अर्द्धगोलाकार रूप में जोड़कर बानाए जाते हैं जिन्हे इग्लू कहा जाता हैं। इस निवास का भीतरी भाग तीन सही एक बटेवा दो मीटर व्यास का होता है|

== भोजन= ये लोग मुख्य रूप से सील मछली का हारपून नामक हड्डीयों से बने भाले से शिकार करतें हैं तथा उसका मांस खाते हैं

वस्त्र[संपादित करें]

ये वस्त्र कैरिबो की खाल से बने होते हैं। ये वस्त्र सील मछली की खाल की अपेक्षा अधिक गर्म एवं हल्क़े होते हैं। धुर्वीय भालू के समूर से भी वस्त्र बनाये जाते हैं।

समाज[संपादित करें]

एस्किमो साइबेरिया के टूंड्रा प्रदेश के आदिवासी है जो मछली करेबू तथा रेनडियर का शिकार करते हैं। शीत ऋतु में इग्लू बनाकर रहते है। ऋतु परिवर्तन के साथ ये स्थान परिवर्तन करते हैं।

  इनका जीवन घुमक्कड़ होता है।
 इनकी गाड़ी का नाम- स्लेज होता है।
 जो रेनडियर द्वारा चलाई जाती है।।
  इनका प्रमुख हथियार हरफून होता है