एलएचसी-बी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
वृहद हेड्रॉन संघट्टक
(एलएचसी)
एलएचसी हिन्दी.svg
एलएचसी प्रयोग
एटलस ए टोरोइडल एलएचसी एपरेटस
(एक टोरोइड एलएचसी उपकरण)
सीएमएस कॉम्पैक्ट म्यूऑन सोलेनोइड
(सुसम्बद्ध म्यूऑन परिनालिका)
एलएचसी-बी एलएचसी-ब्यूटी
ऐलिस ए लार्ज आयन कोलाइडर एक्सप्रिमेंट
(एक विशाल आयन संघट्ट प्रयोग)
टोटेम टोटल क्रॉस सेक्शन, इलास्टिक स्केट्रिंग एण्ड डिफ्रेक्सन डिसोशियशन (कुल अनुप्रस्थकाट क्षेत्र, प्रत्यास्थ प्रकिर्णन और विवर्तन वियोजन)
एलएचसी-एफ एलएचसी-फॉरवर्ड
मोएडल मोनोपोल एण्ड एग्जोटिक्स डिटेक्टर अट द एलएचसी (एलएचसी पर एकल ध्रुव व विलक्षण संसूचक)
एलएचसी पूर्व त्वरक
p (प्रोटॉन) और Pb (सीसा) प्रोटॉनों (रेखिक त्वरक 2) और सीसे (रेखिक त्वरक 3) के लिए रैखिक कण त्वरक
(चिह्नित नहीं) प्रोटॉन सिंक्रोट्रॉन बूसटर
पीएस प्रोटॉन सिंक्रोट्रॉन
एसपीएस सुपर प्रोटॉन सिंक्रोट्रॉन

एलएचसी-बी या एलएचसी-ब्यूटी का पूर्ण नाम लार्ज हैड्रान कोलाइडर - ब्यूटी (अंग्रेज़ी: Large Hadron Collider beauty) है। यह सर्न लार्ज हैड्रान कोलाइडर नामक त्वरक पर आँकड़े इकट्ठा करने वाले ७ कण भौतिकी प्रयोगो में से एक है। एलएचसी-बी विशेष रूप से बी-भौतिकी के अध्ययन के लिए बनाया गया प्रयोग है, जो बी-हैड्रॉनों (भारी कण जिनमें बॉटम क्वार्क होता है) की अन्योन्य क्रिया में आवेश-समता उलंघन का मापन करता है। इस तरह के अध्ययन ब्रह्माण्ड में कण-प्रतिकण असममिति को समझने में सहायक हैं। संसूचक अग्र भाग में दुर्बल-वैद्युत भौतिकी व अनुप्रस्थ काट निर्माण के मापन का निष्पादन करने में भी सक्षम है। सहकार्यता में १६ देशों की ६० संस्थानों से लगभग ८४० लोग कार्य करते हैं जिन्होंने संसूचक बनाया और संचालित किया।[1]

भौतिक उद्देश्य[संपादित करें]

इस प्रयोग के कुछ लक्ष्य निम्न हैं:

  • दुर्लभ Bs → μ+ μ क्षय का शाखन अनुपात की उपरी सीमा का मापन करना।
  • Bd → K* μ+ μ क्षय के म्यूऑन युग्म की अग्र-पश्च सममिति का मापन करना।
  • Bs → J/ψ φ क्षय में आवेश-समता उल्लंघन कला का मापन करना।
  • विकिरणीय B क्षय के गुणधर्मों का मापन।
  • ऐकिक त्रिक कोण γ का ट्री-स्तर तक अध्ययन।
  • चार्मरहित आवेशित द्विकण क्षय।

एलएचसी-बी संसूचक[संपादित करें]

एलएचसी-बी संसूचक

ये भी देखें[संपादित करें]

बाह्य सूत्र[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. एलएचसी-बी सहकार्यता जालस्थल