उपपुराण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

समान्यतः जो पुराण केवल पंचलक्षणात्मक एवं महापुराणों से विषयों के विन्यास तथा देवीदेवताओं के वर्णन में छोटे होते हैं, परंतु उनसे कथा विशेष में समानता रखते हैं वे 'उपपुराण' कहे जाते हैं। इनकी यथार्थ संख्या तथा नाम के विषय में बहुत मतभेद है। लोकप्रिय उपपुराणों के नाम इस प्रकार हैं-

  • (१) आदित्य (या सौर),
  • (२) उशनस्‌ (या औशनसव),
  • (३) कपिल,
  • (४) कालिका,
  • (५) कुमार,
  • (६) गणेश,
  • (७) गौतम,
  • (८) दुर्वासा,
  • (९) देवीपुराण,
  • (१०) नंदी,
  • (११) नृसिंह,
  • (१२) महेश्वर,
  • (१३) मारीच,
  • (१४) शिवधर्म,
  • (१५) सांब,
  • (१६) सनत्कुमार,
  • (१७) विष्णुधर्मोत्तर तथा
  • (१८) कल्कि।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]