आलिफ़ लैला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

आलिफ लैला या (अंग्रेजी:अरेबियन नाइट्स) की कथाएं मूलतः फारसी भाषा में 'आलिफ लैला' शीर्षक से रची गयी थी। यह संसार की महानतम् रचनाओं में से एक है, विशेषकर बाल-साहित्य के क्षेत्र में। अधिकतर रचनाएं प्राचीन भारत, ईरान तथा अरब देशओं की पौराणिक कथाओं का संग्रह है। कहानियाँ अति कल्पनाशील, तिलस्मी तथा जादुई घटनाओं से भरी हुई हैं।

आलिफ लैला की प्रमुख कहानियों में - सिन्ध बाद की सात समुद्री यात्राएं, आलादीन और जादुई चिराग, अली बाबा और चालीस चोर, बोलने वाली चिड़ियाँ, ख़जूर की गुठला, मुरगे की सीख, परी का कोप, सुराही का जिन्न आदि प्रसिद्ध हैं।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]