आयरिश मुक्त राज्य

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
आयरिश मुक्त राज्य
Saorstát Éireann
ब्रिटिश साम्राज्य का एक परिराज्य (वर्ष 1937 तक)

1922–1937
ध्वज मोहर
राष्ट्रीय गान
"Amhrán na bhFiann"[1]
"सैनिकों का गीत"
आयरिश मुक्त राज्य, 8 दिसंबर 1922 तक (dark & light green)
8 दिसंबर 1922 के बाद (dark green)
राजधानी डबलिन
53°21′N 6°16′W / 53.350°N 6.267°W / 53.350; -6.267
भाषाएँ आयरिश, अंग्रेज़ी
शासन संसदीय संवैधानिक राजतंत्र
अधिराट्
 -  1922–1936 जॉर्ज पंचम
 -  1936 एडवर्ड अष्टम्
 -  1936–1937 जॉर्ज षष्टम्
(विवादित रूप से)
गवर्नर-जनरल
 -  1922–1927 टिमोथी माइकल हीली
 -  1928–1932 जेम्स मकनेइल्ल
 -  1932–1936 डोमहनाल वा बॉचाल
कार्यकारी परिषद् के अध्यक्ष
 -  1922–1932 W. T. Cosgrave
 -  1932–1937 Éamon de Valera
विधानमंडल Oireachtas
 -  उच्च सदन Seanad
 -  निम्न सदन Dáil
इतिहास
 -  आंग्ल-आयरिश संधि 6 दिसंबर 1921
 -  आयरिश मुक्तराज्य का संविधान 6 दिसंबर 1922
 -  उत्तरी आयरलैंड का प्रस्थान 8 दिसंबर 1922
 -  आयरलैंड का संविधान 29 दिसंबर 1937
क्षेत्रफल
 -  ८ दिसंबर ११९२२ तक 84,000 किमी ² (32,433 वर्ग मील)
 -  दिसंबर १९२२ के बाद 70,000 किमी ² (27,027 वर्ग मील)
मुद्रा पाउण्ड स्टर्लिंग (1922–27)
Saorstát Pound (1928–37)
आज इन देशों का हिस्सा है: Flag of Ireland.svg आयरलैंड
Flag of the United Kingdom.svg यूनाइटेड किंगडम
Warning: Value specified for "continent" does not comply

आयरिश मुक्त राज्य (आयरिश : Saorstát Éireann [sˠiːɾˠsˠˈt̪ˠaːt̪ˠ eːɾʲən̪ˠ], वर्ष १९२२ में, ब्रिटिश राष्ट्रमण्डल के एक परिराज्य(डोमिनियन) के रूप में स्थापित एक स्वतंत्र राज्य था। इसे दिसंबर १९२१ के आंग्ल-आयरिश संधिके तहत स्थापित किया गया था। इस समझौते ने पिछले तीन वर्षों से, सवोऽद्घोषित आयरिश गणराज्य और ब्रिटिश मुकुट के बलों के बीच चली आ रही आयरिश स्वतंत्रता युद्ध को समाप्त कर दिया। दिसंबर १९३७ में आयरलैण्ड के नए संविधान के परवर्तन, तथा गणराज्य की घोषण के बाद यह विस्थापित होगया।

प्रारंभिक समय में आयरलैण्ड की तमाम ३२ काउण्टियाँ , मुक्त राज्य के अधिकार में थीं, परंतु बाद में पूर्वोत्तर की ६ कॉउंटियों ने समझौते के अंतर्गत, मुक्त राज्य से बहार निकल कर पुनः यूनाइटेड किंगडम में शामिल होने का निर्णय किया। परिराज्य (डोमिनियन) होने के नाते, आयरलैंड, इस व्यवस्था के अंतर्गत, ब्रिटेन की सरकार से स्वतंत्र तो था, परंतु देश के नाममात्र राष्ट्रप्रमुख, ब्रिटिश संप्रभु थे, तथा इसकी सरकार, कार्यकारी परिषद् तथा, संप्रभु के प्रतिनिधि के रूप में, गवर्नर-जनरल द्वारा रचित थी। साथ ही एक द्विसदनीय विधायिक भी थी। सरकारी अधिकारियों को शासक के प्रति वफ़ादारी की शपथ लेने की भी अनिवार्यता थी।

मुक्त राज्य के प्राथमिक महीने, आयरिश गृहयुद्ध से पस्त थे। यह युद्ध नवस्थापित सरकार की सेना और समझौता-विरोधी आयरिश रिपब्लिकन आर्मी के बीच छिड़ा था, जोकि एक गणराज्य स्थापित करने की इच्छुक थी। यह गृहयुद्ध सरकारी बालों की विजय के साथ समाप्त हुआ, संधि-विरोधी बालों ने मई १९२२ में अपने शास्त्र त्याग दिए और शांतिपूर्ण मार्ग अपनाने का निर्णय किया। संधि तथा राजतंत्र-विरोधी दाल, सिन् फेइन् ने अपने नेता डी वालेरा के नेतृत्व में १९२७ का आम चुनाव लड़ कर राष्ट्रीय विधायक में पहले बार स्थान ग्रहण किया, और १९३२ के चुनाव् के बाद सबसे बड़ी दल के रूप में उबरी।

डी वालेरा ने वफादारी की शपथ को बर्खास्त कर दिया, और १९३७ में एक नए गणतांत्रिक संविधान का मसौदा तैयार किया। इस संविधान को तत्वर्ष जुलाई मास में जनमत-संग्रह द्वारा पारित कर दिया गया। २९ दिसंबर १९३७ में नए संविधान के परवर्तन के साथ ही आयरिश मुक्त राज्य का अंत हो गया, और नए संविधान के तहत इस आयरिश राज्य को आयरलैंड का नाम दिया गया। साथ ही शासक और गवर्नर जनरल के पद को समाप्त कर लोकतांत्रिक मूल्यों के आधार पर निर्वाचित राष्ट्रपति के पद से परिवर्तित कर दिया दया।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Officially adopted in July 1926. O'Day, Alan (1987). Alan O'Day, संपा॰. Reactions to Irish nationalism. Continuum International Publishing Group. पृ॰ 17. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-907628-85-9. अभिगमन तिथि 28 April 2011.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]