अल्फा क्षय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

{[आधार}}

Visual representation of alpha decay

अल्फा क्षय (Alpha decay या α-decay) एक प्रकार का रेडियोधर्मी क्षय है जिसमें परमाणु के नाभिक से अल्फा कण का उत्सर्जन होता है और एक नया परमाणु बनता है जिसकी द्रव्यमान संख्या मूल परमाणु से ४ कम होती है तथा परमाणु संख्या मूल परमाणु के परमाणु संख्या से २ कम होती है। अल्फा-कण हिलियम-4 परमाणु के नाभिक जैसा है जिसमें २ प्रोटॉन और २ न्यूट्रॉन होते हैं।

उदाहरण के लिये, यूरेनियम-238 का अल्फा-क्षय होकर थोरियम-234 बनता है:[1]

या,

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Suchocki, John. Conceptual Chemistry, 2007. Page 119.

इन्हें भी देखें[संपादित करें]