अल्ताई पर्वत शृंखला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अल्ताई पर्वत शृंखला का नक़्शा

अल्ताई पर्वत शृंखला मध्य एशिया की एक बड़ी पर्वत शृंखला है जो उस क्षेत्र से गुज़रती है जहाँ रूस, चीन, कज़ाख़िस्तान और मंगोलिया मिलते हैं। मध्य एशिया की दो महत्वपूर्ण नदियाँ- इरतिश और ओब - इन्ही पहाड़ों से शुरू होती हैं। अल्ताई पर्वत क्षेत्र को ही तुर्की भाषा परिवार और भाषावैज्ञानिकों द्वारा प्रस्तावित अल्ताई भाषा परिवार की जन्मभूमि बताया जाता है। अल्ताई पर्वत पश्चिमोत्तर में साइबेरिया की सायन पर्वत शृंखला से आरम्भ होते हैं और दक्षिण-पूर्व में धीरे-धीरे छोटे होकर गोबी के ऊंचे रेगिस्तानी पठार में जा मिलते हैं। तुर्की भाषाओँ में "अल्ताई" शब्द का अर्थ "सोने के पहाड़" है और यह दो शब्दों को जोड़कर बनता है - "अल" (जिसका मतलब "सोना" है) और ताऊ (यानि "पहाड़").[1]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "E. J. Brill's first encyclopaedia of Islam 1913-1936". BRILL. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9789004082656. मूल से 12 जनवरी 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 26 दिसंबर 2011.