अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अन्तर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस अथवा अन्तर्राष्ट्रीय विकलांग दिवस प्रतिवर्ष 3 दिसंबर[1] को मनाया जाता है। वर्ष 1976 में संयुक्त राष्ट्र आम सभा के द्वारा “विकलांगजनों के अंतरराष्ट्रीय वर्ष” के रूप में वर्ष 1981 को घोषित किया गया था।

चित्र:International Day of Persons with Disabilities 2012.jpg
वर्ष २०१२ का पोस्टर

विषयवस्तु[संपादित करें]

वार्षिक आधार पर निम्न विषयवस्तु पर यह दिवस मनाए गए:

  • वर्ष 1998 की विषयवस्तु थी “कला, संस्कृति और स्वतंत्र रहन-सहन”।
  • वर्ष 1999 की विषयवस्तु थी “नयी शताब्दी के लिये सभी की पहुंच”।
  • वर्ष 2000 की विषयवस्तु थी “सभी के लिये सूचना क्रांति कार्य निर्माण”।
  • वर्ष 2001 की विषयवस्तु थी “पूर्ण सहभागिता और समानता: प्रगति आँकना और प्रतिफल निकालने के लिये नये पहुंच मार्ग के लिये आह्वान”।
  • वर्ष 2002 की विषयवस्तु थी “स्वतंत्र रहन-सहन और दीर्घकालिक आजीविका”।
  • वर्ष 2003 की विषयवस्तु थी “हमारी खुद की एक आवाज”।
  • वर्ष 2004 की विषयवस्तु थी “हमारे बारे में कुछ नहीं, बिना हमारे”।
  • वर्ष 2005 की विषयवस्तु थी “विकलांगजनों का अधिकार: विकास में क्रिया”।
  • वर्ष 2006 की विषयवस्तु थी “ई- एक्सेसिबिलीटी”।
  • वर्ष 2007 की विषयवस्तु थी “विकलांगजनों के लिये सम्माननीय कार्य”।
  • वर्ष 2008 की विषयवस्तु थी “विकलांग व्यक्तियों के अधिकारों पर सम्मेलन: हम सभी के लिये गरिमा और न्याय”।
  • वर्ष 2009 की विषयवस्तु थी “एमडीजी का संयुक्त निर्माण: पूरी दुनिया में विकलांग व्यक्तियों और उनके समुदायों का सशक्तिकरण”।
  • वर्ष 2010 की विषयवस्तु थी “वादे को बनाये रखना: 2015 और उसके बाद की ओर शताब्दी विकास लक्ष्य में मुख्यधारा विकालांगता”।
  • वर्ष 2011 की विषयवस्तु थी “सभी के लिये एक बेहतर विश्व के लिये एक साथ: विकास में विकलांग व्यक्तियों को शामिल करते हुए”।
  • वर्ष 2012 की विषयवस्तु थी “सभी के लिये एक समावेशी और सुगम्य समाज उत्पन्न करने के लिये बाधाओं को हटाना”।
  • वर्ष 2013 की विषयवस्तु थी “बाधाओं को तोड़ें, दरवाज़ों को खोलें: सभी के लिये एक समावेशी समाज और विकास”।
  • वर्ष 2014 की विषयवस्तु थी “सतत् विकास: तकनीक का वायदा”।
  • वर्ष 2015 की विषयवस्तु थी “समावेश मायने रखता है: सभी क्षमता के लोगों के लिये पहुंच और सशक्तिकरण”।

सन्दर्भ[संपादित करें]

https://web.archive.org/web/20171204223021/http://hinditravelblog.com/disabled-day-special-story/

  1. "[[संयुक्त राष्ट्र]] की आधिकारिक वेबसाइट". मूल से 31 मार्च 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 10 अप्रैल 2017.