अनेग्जीमेण्डर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
अनेग्जीमेण्डर
Anaximander.jpg
जन्म 610 BCE
मृत्यु 547 BCE,[1] 556 BCE, 546 BCE Edit this on Wikidata
व्यवसाय दार्शनिक,[1] खगोल विज्ञानी, गणितज्ञ, भौतिक विज्ञानी, लेखक Edit this on Wikidata

यह थेल्स का शिष्य था। उसने सर्वप्रथम एक बेबीलोनियन यन्त्र नोमोन बनाया बनाया जो सूर्य घड़ी का कार्य करता था। अनेग्जीमेण्डर ईसा से 610-546 वर्ष पूर्व युनानी विद्वान था। इसने ब्रह्माण्डविज्ञान को विकसित किया। इसने ब्रह्माण्ड उत्पत्ति का सिद्धांत और नक्षत्रों का उल्लेख किया।

मिलेसस निवासी यह बिद्द्वान थेल्स का शिष्य था तथा उतराधिकारी था ।उन्हिने पृथ्वी की उत्पति ,आकार तथा आकृति में विचार रखे ,उन्हिने पृथ्वी की उतपत्ति अदृश्य पदार्थो से मानी जो उसर्ण और शीतोष्ण दोनों गुड वाले थे ।अदृश्य पदार्थी में भीतरी भाग में ठण्डा होने से तो ढाल की आकृति में पृथ्वी बनी तथा बाहरी उषण भाग केंद्रित भाग से अलग हो गया जो काली धुंद के रूप में वायुमंडल बना ।इन्होने बाताया की पृथ्वी ब्रह्माण्ड के मध्य ठोस रूप में है तथा चपटी ना होकर गोलाकार है ।

उन्होंने पृथ्वी के लम्बाई को चौड़ाई से तीन गुणा अधिक बताया उन्होंने एक मानचित्र भी बनाया ।जिसके मद्य यूनान तथा विश्व के चारो ओर महासागर नदी से घिरा हुआ बताया ।

इन्होने अनेक जिव उत्पत्ति तथा प्रकाश सम्बंधित लेख लिखे तथा पृथ्वी तल से समस्त जीवधारियो को उत्पत्ति जीवो के विकास के फलस्वरूप मानी ।उन्हिने सर्वप्रथम एक बेविलोनियाँ यन्त्र नोमोन बताया जो सूर्य घडी का कार्य करता है amit patel

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Nouveau Dictionnaire des auteurs de tous les temps et de tous les pays; पृष्ठ: 87; खंड: 1.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

प्रमुख बिन्दु✔ एनेक्सीमेण्डर प्रथम व्यक्ति था जिसने मापक के आधार पर विश्व का मानचित्र बनाया था।इसके पूर्व सुमेरवासियो ने 2700 ईसा पूर्व मे अपने नगरों का चित्रात्मक मानचित्र भी बनाया था।