संक्षिप्त सन्देश सेवा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


मोटोरोला आरएजेडआर मोबाइल फोन पर प्राप्त तिहरा स
सबसे सामान्य मोबाइल कीपैड वर्णमाला लेआउट है।

संक्षिप्त सन्देश सेवा (तिहरा स) (ऍसऍमऍस) या सरल मोबाइल सन्देश एक संचार प्रोटोकॉल (communications protocol), मोबाइल टेलीफोन उपकरणों के बीच लघु लेख संदेशों का आदान-प्रदान करने की अनुमति देता है। इस ग्रह पर 2;4 अरब सक्रिय उपभोक्तओं सहित अथवा सभी मोबाइल फोन के ग्राहकों के ७४% अपने -अपने फोनों पर संदेश भेजने एवं प्राप्त करने के लिए उपयोग करते हैं। तिहरा स प्रौद्योगिकी ने पाठ संदेश (text messaging) के विकास और वृद्धि को आसान बना दिया है। पाठ संदेश की संकल्पना और प्रोद्योगिकी को कार्य के रूप में उपयोग किया जाने लगा है भले ही किसी अलग प्रोटोकॉल का उपयोग किया जाता रहा हो।

आधुनिक हैंडसैटों पर प्रयुक्त किए गए तिहरा स की मूल \]03.40">जीएसएम 03,40, संक्षिप्त संदेश सेवा (SMS) का तकनीकी अहसास</ref> पर 160 करेक्टर (स्पेस सहित) तक के संदेश प्राप्त करने और भेजने के लिए उपयोग किया जाता था। तबसे इस सेवा के लिए सहयोग को वैकल्पिक मोबाइल जैसे एएनएसआई सीडीएमए नेकटवर्क (ANSI CDMA networks) और डिजीटल एएमपीएस (Digital AMPS) के साथ-साथ उपग्रह (satellite) और लैंडलाइन (landline) नेटवर्क को भी शामिल कर दिया गया है। अधिकांश तिहरा स संदेश एक मोबाइल से दूसरे मोबाइल पर पाठ संदेश होते हैं जिसमें संदेश प्रसारण की मानक सहयोग वाली अन्य किस्मों का उपयोग किया जाता है।

इतिहास[संपादित करें]

जीएसएम के भगा के रूप में तिहरा स[संपादित करें]

मोबइल उपयोगकर्ताओं की सेवाओं में पाठ संदेश को जोड़ने का विचार 1980 के दशक के प्रारंभ में मोबाइल संचार सेवाओं के बहुत से समुदायों में प्रचलित था। इन समुदायों में बहुत से समुदायों के विशेषज्ञों ने उन चर्चाओं में अपना योगदान दिया जिसपर जीएसएम सेवाएं होनी चाहिएं। किसी एक मोबाइल उपयोगकर्ता को अलर्ट करने के साधन के रूप में तिहरा स के अधिकांश विचार उदाहरण के तौर पर पहले से सुरक्षित व्हाइस मेल पर आधारित थे जबकि दूसरों में टेलीमेट्री (telemetry) जेसे अपेक्षाकृत अधिक जटिल अनुप्रयोगों को ध्यान में रखा जाता था। लेकिन कुछ का मानना है कि तिहरा स का प्रयोग एम मोबाइल उपयोगकर्ता से दूसरे मोबाइल उपयोगकर्ता के पास संदेश भेजने के लिए किया जाए।

जे की अध्यक्षता मे फरवरी 1985 के आरंभ में जीएसएम उपसमूह डबल्यूपी 3, पर पहले ही चर्चा होने के बाद इसका उपयोग होने लगा था। ओडस्टेड का कहना है कि नई डिजीटल सेल्यूलर प्रणाली के लिए एक संभावित सेवा के रूप में प्रमुख जीएसएम समूह में तिहरा स पर विचार किया जाता था। जीएसएम दस्तावेज में जीएसएम प्रणाली ,[1] के अंतर्गत उपलब्ध कराई जाने वाली सेवाएं और सुविधाएं जो दोनों ही मोबाइल प्रजनित और स्थगित हैं के अंतर्गत संक्षिप्त संदेश जीएसएम टेलीसर्विसेज की तालिका पर प्रकट होते हैं।

जीएसएम सेवाओं पर चर्चाओं को जीएसएम पीएलएमएन (PLMN)[2] द्वारा सहयोग प्राप्त जीएसएम 02;03 टेलीसिर्वेज की सिफारिशों में शामिल कर लिया गया था। यहाँ तीनों सेवाओं का एक अल्पविकसित विवरण दिया गया है।

  1. लघु संदेश मोबाइल स्थगित (एसएमएस-एमटी)/ बिंदु से बिंदु तक में किसी भी मोबाइल फोन पर लघु संदेश प्रसारित करने वाले नेटवर्क की क्षमता होती है। फ़ोन द्वारा अथवा एक सॉफ्टवेयर अनुप्रयोग द्वारा संदेश भेजा जा सकता है।
  2. मोबाइल जनित लघु संदेश (एसएमएस-एमओ)/ बिंदु वाले नेटवर्क में किसी मोबाइल फोन द्वारा भेजे गए संदेश को</ref> के समय से ही कोर नेटवर्क के माध्यम से लघु को केमल एसएमएस में सहयोग देने के लिए विकसित किया गया है। में टेलीनर और बीटीसेलनेट (जो अब ओ2 यूके है) ने बाद में 1993 में की थी।

हालांकि प्रारंभ में इसकी वृद्धि धीमी थी जिसमें केवल 1995 ग्राहक जीएसएम के प्रति ग्राहक के तौर पर औसत रूप से एक महीने[3] में 0;4 संदेश ही भेज पाते थे। तिहरा स को धीमी गति से प्राप्त करने का एक कारण आप्रेटरों द्वारा चार्जिंग प्रणाली की स्थापना धीमी गति से करना था विशेषकर प्रीपेड ग्राहकों के लिए और बिल में धोखाधड़ी को दूर करते थे जो दूसरे आप्रेटरों की एसएमएससी का उपयोग करने के लिए निजी हैंडसैटो पर एसएमएससी (SMSC) की सैटिंग को बदलने से ही संभव था।

समय बीतने के साथ-साथ एसएमएससी पर बिल बनाए जाने को स्विच बिलिंग से बदल दिया गया जिसमें एसएमएससी के अंदर ही कुछ नई विशेषताएं थीं जो विदेशी मोबाइल यूज़रों को इसके द्वारा संदेश भेजने की अनुमति को रोक देती थीं। वर्ष 2000 के अंत तक प्रति यूज़र प्रति मास[3] तक संदेशों की औसत संख्या 35 हो गई और क्रिसमस दिवस 2006 तक 205 मिलियन लेख केवल अकेले यूके[4] में भी भेजे गए थे।

यह भी कहा गया है कि आरंभिंक दिनों में रोमिंग ग्राहकों को विदेशों में छुट्टियों के बाद उनके तिहरा स के लिए कभी कभी ही बिल मिलते थे जिसे व्हाइस कॉल के वैकल्पिक रूप के तौर पर लेख संदेशों को जबरदस्त प्रोन्नति मिली थी

तिहरा स को मूल रूप से जीएसएम के अंग के रूप में डिजाइन किया गया था किंतु अब 3 जी (3G) नेटवर्क सहित नेटवर्क की विभिन्न श्रेणियों पर उपलब्ध है। हालांकि सभी लेख संदेश प्रणाली तिहरा स का उपयोग नहीं करती हैं और इस अवधारणा की कुछ उल्लेखनीय वैकल्पिक कार्यान्वयन में जे-फोन (J-Phone) की स्काईमाल (SkyMail) तथा एनटीटी डोकोमा (NTT Docomo) की शार्ट मेल (Short Mail) जो दोनों ही जापान में है शामिल की गई हैं। एनटीटी डोकोमो की आई-मोड (i-mode) और आरआईएम की ब्लेकबेरी (BlackBerry) द्वारा लोकप्रियता वाली फोन पर ई-मेल संदेश सेवा भी टीसीपी/आईपी ([[:en: शामिल होते हैं जैसेटी वी मतदान तिहरा स संदेश और कार्यक्षमता व लागत के साथ साथ संदेश सेवाओं के स्तर पर विचार करते हुए तिहरा स गेटवे आपूर्तिकर्ताओं को एग्रीगेटर्स अथवा एसएस7 (SS7) आपूर्तिकर्ता के तौर पर वर्गीकृत किया जा सकता है।

एग्रीगेटर मॉडल मोबाइल कैरियर के साथ बहु समझोतों पर आधारित है जिसमें 2-मार्ग वाले तिहरा स ट्रेकि को आप्रेटर के तिहरा स प्लेटफार्म (संक्षिप्त संदेश सेवा केंद्र (Short Message Service Centre) के अंदर एवं बाहर आदान-प्रदान किया जाता है। इसे स्थानीय स्थ्गन मॉडल भी कहते हैं। एग्रीगेटर्स के पास एसएस7 (SS7) प्रोटोकाल की सीधी पहुंच की कमी होती है जो ऐसा प्रोटोकाल है जहां तिहरा स संदेशों का विनिमय किया जाता है। इन आपूर्तिकर्ताओं का संदेश डिलीवरी पर न तो कोई नियंत्रण होता है और न ही दृश्यता जिससे डिलीवरी गारंटी देने में अयोग्य हो जाते हैं। एसएमएस संदेश आप्रेटर के एसएमएस-सी में डिलीवर किए जाते हैं न कि ग्राहक के हैंडसैट पर।

एसएमएस द्वार (SMS gateway) आपूर्तिकर्ताओं की एक अन्य किस्म तिहरा स संदेशों का मार्ग प्रशस्त करने के लिए एसएस7 (SS7) कनेक्टीविटी पर आधारित है जिसे अंतरराष्ट्रीय स्थगन मॉडल.भी कहा जाता है। इस मॉडल का लाभ एसएस7 (SS7) के माध्यम से डाटा को सीधे भेजने की योग्यता है जो सेवादाता को तिहरा स भेजते समय संपूर्ण मार्ग पर पूर्ण नियंत्रण और दृश्यता प्रदान करती है। इसका अर्थ यह हुआ कि तिहरा स संदेशों को लोगों के बीच सीधे भेजा जा सकता है जिसके लिए दूसरे मोबाइल आप्रेटरों के तिहरा स केद्रों का सहारा नहीं लेना पड़ता है। इसलिए संदेशों की संपूर्ण डिलीवरी और आदर्श मार्ग प्रस्तुत करने की गारंटी प्रदान करने के लिए संदेशों में विलंब और उनके खो जाने से बचा नहीं जा सकता है जिससे आर्दा मार्ग औीजाना यह मॉडल खासकर उस समय कुशल होता है जब इसका उपयोग मिशन की महत्वपूर्ण संदेश सेवा और कार्पोरेट संचार में उपयोग किया जाता है1 .

अन्य नेटवर्क के साथ परस्पर संबंध[संपादित करें]

संदेश सेवा केंद्र इंटरवर्किंग एवं गेटवे एमएससी (MSCs) के मार्ग से होते हुए सार्वजनिक लैंडलाइन मोबाइल नेटवर्क (पीएलएमन) (Public Land Mobile Network (PLMN)) अथवा पीएसटीएन (PSTN) के साथ संचार करते हैं।

ग्राहक जनित संदेशों को एक हैंडसेट से सेवा केंद्र तक भेजा जाता है और इन्हें स्थिर नेटवर्क अथवा मूल्य संवर्धित सेवादाता (वीएएसची) (Value-Added Service Providers (VASPs)) के मोबाइल यूज़र अथवा ग्राहकों के लिए भी बनाया जा सकता है। ग्राहक स्थगित संदेशों को सेवा कंद्र से गंतव्य हैंडसैट तक ले जाया जाता है और इनकी उत्पत्ति स्थिर नेटवर्क वाले ग्राहकों अथवा वीएएसपी जैसे अन्य स्रोतों वाले मोबाइल यूजर से हो सकती है।

किसी ग्राहक के फोन पर ई-मेल का उपयोग करते हुए संदेश भेजना भी इससे संभव है। एटी एंड टी, T - मोबाइल और कुछ अन्य अपनी वेबसाइट मेल सर्वर के माध्यम से इसे करने की सक्षमता प्रदान करते हैं। उदाहरण के लिए यदि आपने एटीएंड टी ग्राहक से ईमेल की इच्छा प्रकट की है जिसका फोन नं0 555-555-5555 था तब आप संदेश को 5555555555@txt.att.net. पर भेजेंगे। संदेश भेजने के लिए आपको भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है किंतु इसकी सीमा 140 वर्ण है। .

लेख सक्षम फिक्स्ड लाइन हैंडसेट की जरूरत लेख प्रारूप में संदेश प्राप्त करने के लिए होती है। लेकिन, पाठ से वाक परिवर्तन (text-to-speech conversion).[5] के उपयोग से गैर सक्रिय फोन पर भी संदेश भेजे जा सकते हैं।

संक्षिप्त संदेशों का उपयोग रिंगटोन (ringtone) अथवा प्रतीकों के साथ साथ ओवर द ईयर प्रोग्राम (Over-the-air programming) (ओटीए) अथवा विन्यास डाटा जैसी द्विआधारी सामग्री को भेजने के लिए भी किया जा सकता है। इस प्रकार के उपयोग जीएसएम मापदंडों के आपूर्तिकर्ता विशेष विस्तार होते हैं और इनमें बहु पूर्ण मानक होते हैं हालांकि नोकिया (Nokia) की स्मार्ट संदेश (Smart Messaging) सेवा सबसे अधिक प्रचलित है। इस प्रकार की आधारभूत सामग्री को भेजने का एक वैकल्पिक उपाय ईएमएस (EMS) संदेश सेवा है जो मानकीकृत है और आपूर्तिकर्ताओं पर निर्भर नहीं है।

आज, एसएमएस का उपयोग मशीन (machine) से मशीनी संचार (communication) के लिए भी किया जाता है। उदाहरण के लिए एसएमएस द्वारा नियंत्रित की जाने वाली एक एलईडी डिस्प्ले मशीन होती है और वाहन की खोज (vehicle tracking) करने वाली कुछ कंपनियों अपने डाटा परिवहन (transport) अथवा टेलीमेट्री (telemetry) जरूरतों के लिए एसएमएस का उपयोग करती हैं। इन उद्देश्यों के लिए एसएमएस का उपयोग धीरे धीरे जीपीआरएस (GPRS) सेवाओं की कुल कीमतकम होने के कारण घट गया है।

आज्ञाओं में[संपादित करें]

कई मोबाइल और उपग्रह ट्रांसीवर इकाईयां हेस कमांड सैट (Hayes command set) के विस्तारित रूप का उपयोग एसएमएस भेजने और प्राप्त करने के लिए करती हैं। टर्मिनल उपकरण और ट्रांसीवर के बीच संबंध को एक सीरियल केबल से महसूस किया जा सकता है (यानीयूएसबी), एक ब्लूटूथ (Bluetooth) कड़ी, एक अवरक्त लिंक, आदिसामान्य एटी कमांड में एटी + सीएमजीएस (संदेश भेजें), एटी + सीएमएसएस + (भंडारण से संदेश भेजना), एटी + सीएमजीएल + (सूची संदेश) और एटी + सीएमजीआर (संदेश पढ़ा है)[6] शामिल हैं।

तथापि, सभी आधुनिक यंत्र संदेश प्राप्ति को सहयोग नहीं देते हैं यदि संदेश की क्षमता उदाहरण के लिए आंतरिक स्मृति एटी कमांड का उपयोग करने पर पहुंच से बाहर है।

प्रीमियम स्तर के छोटे[संपादित करें]

संक्षिप्त संदेशों का उपयोग किसी टेलीफोन नेटवर्क कि ग्राहकों को प्रीमियम दर संबंधी सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए किया जा सकता है।

मोबाइल स्थ्गित संक्षिप्त संदेशों का उपयोग खबरों की सूचना देने, वित्तीय सूचनाओं, लोगोप्रतीकों और रिंगटोन की डिलीवरी देने में किया जा सकता है। सामग्री उपलब्ध कराने वाला मूल्य संवर्धित सेवा प्रदाता (Value-added service provider) (वीएएसपी) (TCP/IP) मोबाइल आप्रेटर के एसएमएससी को संदेश प्रस्तुत करता है इसके लिए वह टीसीपी/आईपी (short message peer-to-peer protocol) जेसे संक्षिप्त संदेश वाले समान प्रोटोकाल (External Machine Interface (EMI)) (एसएमपीपी) अथवा बाह्य मशीन इंटरफेस (ईएमआई) का उपयोग करता है। सामान्य मोबाइल स्थगन डिलीवरी प्रक्रिया का उपयोग करते हुए एसएमएससी लेख भेज देता है। इस प्रीमियम सामग्री के लिए ग्राहक से अलग से पैसा लिया जाता है और इस राशि को मोबाइल नेटवर्क आप्रेटर (mobile network operator) तथा वीएएसपी के बीच राजस्व बांटकर या निर्धारित परिवहन शुल्क के द्वारा बांट दिया जाता है।

मोबाइल जनित संक्षिप्त संदेशों का उपयोग प्रीमियम मूल्यांकित विधि में टेलीवोटिंग (televoting) जैसी सेवाओं के लिए किया जा सकता है। इस मामले में सेवा प्रदान करने वाला वीएएसपी टेलीफोन नेटवर्क आप्रेटर से शार्ट कोड (Short Code) प्राप्त करता है ओर ग्राहक उस नम्बर पर लेख भेजते हैं। कैरियरों को किया जाने वाला भुगतान बदलता रहता है और भुगतान की गई प्रतिशत न्यूनतम प्रीमियम एसएमएस सेवाओं पर सबसे अधिक होती हैं। अधिकांश सूचना प्रदाताओं को कैरियर तक प्रीमियम एसएमएस की लागत के लगभग 45 प्रतिशत भाग भुगतान करने की अपेक्षा करनी चाहिए। एसएमएससी को लेख का प्रस्तुतीकरण मानक एमओ संक्ष्रिप्त संदेश प्रस्तुतीकरण के सदर्श होता है किंतु एक बार जब लेख एसएमएससी पर आ जाता है तब सेवा केंद्र प्रीमियम सेवा के रूप में शार्ट कोड की पहचान करता है। इसे बाद एससी लेख संदेश की सामग्री को वीएएसपी के पास भेज देता है जिसमें एसएमपीपी अथवा ईएमअाई जैसे आईपी (IP) प्रोटोकाल का उपयोग किया जाता है। इस प्रकार के संदेशों को भेजने के लिए ग्राहकों से पेसा लिया जाता है जिसमें राजस्व को नेटवर्क आप्रेटर और वीएएसपी के बीच बांट दिया जाता है। संक्षिप्त कोडों की सीमाओं में राष्ट्रीय सीमाओं के प्रतिबंध (छोटे कोड को अभियान वाले प्रत्येक देश में सक्रिय करना होता है) और साथ ही महंगी होने के लिए मोबाइल ऑपरेटरों के साथ हस्ताक्षर करने होते हैं।

आने वाले एसएमएस के लिए एक विकल्प  लम्बी संख्या (Long numbers) (अंतरराष्ट्रीय संख्या  प्रारूप पर आधारित है जैसे  +44 7624 805000) विभिन्न अनुप्रयोगों में एसएमएस प्राप्ती के लिए उपश्योग किया जा सकता है जैसे टी वी मतदान उत्पाद प्रोन्नति तथा अभियान। लम्बी संख्या (Long numbers) अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उपलब्ध हैं, साथ ही व्यापार को अपना खुद का नम्बर लेने के योग्य बनाती हैं न कि छोटे कोड जिन्हें आमतौर पर बहुत से ब्रांडों साथ बांट लिया जाता है। इसके अतिरिक्त, लम्बी संख्या (Long numbers) गैर प्रीमियम वाली इन-बाउंड संख्याएं  होती हैं।


उपग्रह फोन नेटवर्क में एसएमएस[संपादित करें]

ACeS (ACeS) और OptusSat (OptusSat) एसएमएस का पूरी तरह समर्थन.को छोड़कर सभी वाणिज्यिक सैटेलाइट फोन (Satellite phone) नेटवर्क हालांकि शुरुआती इरिडियम (Iridium) हैंडसेट केवल आने वाले एसएमएस में ही सहयोग देते हैं जबकि बाद वाले मॉडल उन्हें भी भेज सकते हैं। अलग अलग नेटवर्क के लिए प्रत्येक संदेश की कीमत प्राय: 25 और 50 सेन्ट प्रति संदेश होती है। कुछ अन्य मोबाइल फोन नेटवर्क की तरह अंतरराष्ट्रीय एसएमएस भेजने अथवा किसी दूसरे उपग्रह नेटवर्क वाले फोन पर एसएमएस भेजने के लिए कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाता है। एसएमएस कभी कभी उन क्षेत्रों से भी भेजा जा सकता हे जहां ध्वनि कॉल करने के लिए सिग्नल बहुत कम होते हैं।

सेटेलाइट फोन नेटवर्क में प्राय: वेब आधारित अथवा ईमेल आधारित एसएमएस पोर्टल होती है जहां आप आप उस विशेष नेटवर्क पर फोन पर मुफ्त एसएमएस भेज सकते हैं।

कमजोरियों[संपादित करें]

अक्टूबर 2005 में पेनसिल्वेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी (Pennsylvania State University) के शोधकर्ताओं ने एसएमएस का क्षमतापरक सेल्यूलर नेटवर्क[7] में संभावनाओं का एक विश्लेषण प्रकाशित किया था। शोधकर्ताओं ने अफवाह फेलाई कि हमलावर इन नेटवर्कों की खुली कार्यक्षमता को नुकसान पहुंचा सकते हैं ताकि राष्ट्रीय स्तर पर नेटवर्क को बाधित अथवा विफल किया जा सके।

यह भी देखें[संपादित करें]

विवरण[संपादित करें]

संबंधित प्रोटोकॉल[संपादित करें]

संबंधित प्रौद्योगिकी[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; GSM_28.2F85 नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  2. जीएसएम टीएस 02,03, जीएसएम मोबाइल नेटवर्क (पीएलएमएन) .टेलीसर्विसेज द्वारा सहयोग प्राप्त है।
  3. जीएसएम विश्व प्रेस विज्ञप्ति
  4. व्हाइस लैंडलाइन पर बीटी ट्रायल मोबाइल तिहरा स जनवरी 2004, द रजिस्टर
  5. एसएमएस ट्यूटोरियल : एटी कमांड, बेसिक कमांड तथा विस्तारित कमांड का परिचय
  6. एसएमएस में सक्षम सेलुलर नेटवर्क : जो एसएमएस सुविधा सक्षम सेलुलर नेटवर्क को शोषण करता है (2 सितंबर2005) के अनुसार कमजोरियों का विश्लेषण

बाह्य लिंक्स[संपादित करें]