जोसे मैनुअल बरासो

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
José Manuel Barroso MEDEF 2.jpg

जोसे मैनुअल दुराओ बरासो, जिनका जन्म लिस्बन में २३ मार्च, १९५६) को हुआ था पुर्तगाली राजनेता एवं यूरोपीय संघ के ग्यारहवें अध्यक्ष हैं। वे पहले ऐसे पुर्तगाली हैं जो इस पद पर पहुंचे हैं। वे ६ अप्रैल २००२ से १७ जुलाई २००४ तक पुर्तगाल के प्रधानमंत्री रहे जब उन्होंने यूरोपीय संघ की अध्यक्षता के लिए अपना त्यागपत्र दिया था। यूरोपीय संसद के अनुमोदन के बाद उन्होंने उस वर्ष २२ जुलाई को अपने निवर्तमान अध्यक्ष रोमानो प्रोदी से पदभार ग्रहण किया। हलाकि बरासो आयोग ने इसका अनुमोदन २३ नवंबर २००४ को किया।

अपनी मातृभाषा पुर्तगाली के अतिरिक्त श्री बरासो अंग्रेजी, जर्मन एवं फ्रेंच में निपुण माने जाते हैं। जिसने यूरोपीय संघ की अध्यक्षता हासिल करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। [1]

अकादमिक कैरीयर[संपादित करें]

श्री बरासो ने कानून के क्षेत्र में लिस्बन विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि प्राप्त की एवं जेनेवा विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र एवं सामाजिक विज्ञान में एमएससी की उपाधि हासिल की। उन्होंने अपने अकादमिक कैरियर की शुरुआत कानून के सहायक प्रोफेसर में लिस्बन विश्वविद्यालय से की, बाद में उन्होंने अमरीका के वाशिंगटन स्थित जॉर्जटाऊन विश्वविद्यालय से पीएचडी की उपाधि प्राप्त की।

राजनैतिक जीवन[संपादित करें]

पुर्तगाल[संपादित करें]

ईराक युद्ध के पक्ष में[संपादित करें]

बरासो के उत्तराधिकारी[संपादित करें]

यूरोपीय संघ[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

वाह्य सूत्र[संपादित करें]