काराकुम रेगिस्तान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
अंतरिक्ष से काराकुम रेगिस्तान - दाएँ में कैस्पियन सागर नज़र आ रहा है और चित्र के बाएँ ऊपर में आमू दरिया की रेखा
तुर्कमेनिस्तान में काराकुम का एक नज़ारा
पीला रंग हुआ इलाक़ा काराकुम है

काराकुम रेगिस्तान (तुर्कमेन: Garagum; रूसी: Каракумы; अंग्रेज़ी: Karakum) मध्य एशिया में स्थित एक रेगिस्तान है। तुर्कमेनिस्तान देश का ७०% इलाक़ा इसी रेगिस्तान के क्षेत्र में आता है। 'काराकुम' शब्द का अर्थ 'काली रेत' होता है। यहाँ आबादी बहुत कम घनी है, और औसतन हर ६.५ वर्ग किमी में एक व्यक्ति मिलता है। यहाँ बारिश औसत रूप से १० वर्षों में एक दफ़ा गिरती है। यह विश्व के सब से बड़े रेतीले रेगिस्तानों में से एक है।[1]

भूगोल[संपादित करें]

कुल मिलाकर काराकुम का क्षेत्रफल ३,५०,००० वर्ग किमी है। तुर्कमेनिस्तान के देश का अधिकतर क्षेत्र इसी रेगिस्तान में आता है। काराकुम कैस्पियन सागर से पूर्व में और अरल सागर के दक्षिण में स्थित है। उत्तर-पूर्व में आमू दरिया और किज़िल कुम रेगिस्तान हैं।[2] आधुनिक युग में अरल सागर के सिकुड़ने से उस झील का बहुत सा हिस्सा इस रेगिस्तान की चपेट में आ गया है और कुछ लोग इस भाग को 'अरल काराकुम' कहने लगे हैं। यह लगभग ४०,००० वर्ग किमी (१५,४४० वर्ग मील) पर विस्तृत है।[3] अरल के सूखे हुए फर्श पर कृषि में इस्तेमाल होने वाले बहुत से कीटनाशक पदार्थ मिले हुए थे जो सिंचाई की नहरों से बहकर यहाँ आ गए थे। अब यह एक महीन धूल में मिले हुए हैं और हवा के साथ उड़कर हज़ारों मील दूर तक प्रदूषण ले जाते हैं। अरल काराकुम से उड़े कीटमार पदार्थ अन्टार्कटिका में पेंगुइनों के ख़ून में पाए जा चुके हैं। यहाँ की धूल ग्रीनलैंड की हिमानियों (ग्लेशियरों) में, नोरवे के वनों में और बेलारूस के खेतों में भी पाए जा चुकी है।[4]

मानवीय गतिविधियाँ[संपादित करें]

काराकुम इलाक़े के अन्दर बोल्शोई पर्वत शृंखला आती है जिसमें पाषाण युग (पत्थर युग) के मनुष्य बसेरों के अवशेष मिले हैं। आधुनिक युग में यहाँ दुनिया की दूसरी सब से लम्बी सिंचाई नहर, जिसे काराकुम नहर कहते हैं, बनाई गई थी। यह १,३७५ किमी लम्बी है लेकिन वक़्त के साथ-साथ इसमें से पानी जगह-जगह से चूने लगा है, जिस से कई छोटी झीलें बन गईं हैं। इनका पानी रेगिस्तान के नीचे के नमक को ऊपर ले आया है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Climate change and terrestrial carbon sequestration in Central Asia, R. Lal, Psychology Press, 2007, ISBN 978-0-415-42235-2, ... The Karakum ('Black Sand' in Turkic) desert occupies 70% of Turkmenistan and is, with 350000 km2 one of the world's largest sand deserts. The Kyzylkum ('Red Sand') desert, with an area of about 300000km2 in both Uzbekistan and Kazakhstan ...
  2. Geographic perspectives on Soviet Central Asia, Robert A. Lewis, Robert R. Churchill, Amanda Tate, Psychology Press, 1992, ISBN 978-0-415-07592-3, ... The greatest of these deserts is the Kara Kum (“Black Sands” in Turkic), which stretches more than 350000 square kilometers. It lies between the mountains and the Amudar'ya. On the west it touches the pre-Caspian lowland ...
  3. Earth Lab: Exploring the Earth Sciences, Claudia Owen, Diane Pirie, Grenville Draper, Cengage Learning, 2010, ISBN 978-0-538-73700-5, ... Storm winds sweep the dried lakebed, now called the Aral-Karakum Desert, carrying at least 150000 metric tons of salt and dust to the surrounding area, and producing severe, negative effects on agriculture and human health ...
  4. Adventure capitalist: the ultimate investor's road trip, Jim Rogers, Random House Digital, Inc., 2003, ISBN 978-0-375-50912-4, ... The Aral's distinctive poisons, rising to high layers in the atmosphere and carried around the globe, have been found in the blood of penguins in the Antarctic and have fallen on glaciers in Greenland, forests in Norway, and fields in Belorussia ...