हाजी हुसैन अंसारी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
हाजी हुसैन अंसारी

झारखंड के अल्पसंख्यक कल्याण और पंजीकरण मंत्री
पद बहाल
28 जनवरी 2020 – 3 अक्टूबर 2020
मुख्य मंत्री हेमंत सोरेन

जन्म पिपरा, मधुपुर, देवघर, झारखंड, भारत
मृत्यु 3 अक्टूबर 2020 (aged 70 or 73)
रांची, झारखंड, भारत
राष्ट्रीयता भारतीय
राजनीतिक दल झारखंड मुक्ति मोर्चा
व्यवसाय राजनीतिज्ञ

हाजी हुसैन अंसारी (मृत्यु 3 अक्टूबर 2020) एक भारतीय राजनीतिज्ञ और झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) के नेता थे। उन्होंने 28 जनवरी 2020 से झारखंड सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण और पंजीकरण विभाग के मंत्री के रूप में कार्य किया। अंसारी झारखंड राज्य में मंत्री बनने वाले पहले और एकमात्र मुस्लिम थे। वह क्रमशः 1995, 2000, 2009 और 2019 में मधुपुर विधानसभा क्षेत्र से चार बार झामुमो के टिकट पर झारखंड विधानसभा के लिए चुने गए। उन्होंने 2004 में विपक्ष के नेता के रूप में भी काम किया।[1]

जीवन[संपादित करें]

अंसारी का जन्म मधुपुर के पास पिपरा गाँव में हुआ था।[2]

अंसारी ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत 1980 के दशक में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से की थी।[2] 1990 की शुरुआत में वे झारखंड मुक्ति मोर्चा में शामिल हो गए, जो शिबू सोरेन के नेतृत्व में था।[3] उन्होंने 1995 में मधुपुर विधानसभा क्षेत्र के लिए चुनाव लड़ा और चुनाव जीता।[3] सोरेन अंसारी के साथ मिलकर झारखंड राज्य के आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।[2][3] उन्हें मधुपुर निर्वाचन क्षेत्र के लिए 2000 में फिर से विधायक चुना गया।[4] उन्हें 2004 में विपक्ष के नेता के रूप में चुना गया था।[2] 2009 के झारखंड विधान सभा चुनाव में उन्हें एक बार फिर चुना गया।[4] 2010 के दौरान अंसारी ने झारखंड की हज समिति के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया।[2][4]

10 अक्टूबर 2010 को उन्हें तीसरे अर्जुन मुंडा मंत्रालय में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री के रूप में नामित किया गया था।[4] इसके बाद वे झारखंड सरकार में पहले मुस्लिम मंत्री बने।[4] अगस्त 2013 में उन्हें प्रथम हेमंत सोरेन मंत्रालय में मंत्री नामित किया गया था।[5] 2019 के झारखंड विधान सभा चुनाव में उन्हें एक बार फिर चुना गया।[6][7] 28 जनवरी 2020 को उन्हें अल्पसंख्यक कल्याण और पंजीकरण के दूसरे हेमंत सोरेन मंत्रालय में नियुक्त किया गया।[8][9]

व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Jharkhand Council of Ministers, Jharkhand Cabinet Minister 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2019 Jharkhand Cabinet Minister Portfolio List". 3 September 2015.
  2. Gautam Mazumdar (3 October 2020). "Jharkhand minority welfare minister Haji Hussein Ansari dies battling Covid-19". The Hindustan Times. मूल से 4 October 2020 को पुरालेखित.
  3. Manob Chowdhury (3 October 2010). "Minister Haji Ansari dies of cardiac arrest, 2-day state mourning". The Telegraph. मूल से 4 October 2010 को पुरालेखित.
  4. "Haji Hussain Ansari is minority welfare minister of Jharkhand". TwoCircles.net. 11 October 2010. मूल से 14 July 2018 को पुरालेखित.
  5. "Jharkhand Chief Minister Hemant Soren expands cabinet, inducts six ministers". NDTV. 4 August 2013. मूल से 26 August 2019 को पुरालेखित.
  6. "Jharkhand Assembly Election 2019 Results: Full list of winners". Financial Express. 24 December 2019. मूल से 24 December 2019 को पुरालेखित.
  7. "HAJI HUSSAIN ANSARI MADHUPUR (DEOGHAR)". MyNeta. मूल से 4 October 2020 को पुरालेखित.
  8. Vishal Kant (29 January 2020). "Jharkhand cabinet expanded, 7 take oath as ministers". The Hindustan Times. मूल से 3 October 2020 को पुरालेखित.
  9. Gloria Methri (30 January 2020). "J'khand Cabinet Portfolios: CM Soren Keeps Home; Rameshwar Oraon Made Finance Minister". RepublicWorld. मूल से 4 October 2020 को पुरालेखित.