हवलदार एलुमलाई एम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सेना मेडल (वीरता)
HAVILDAR ELUMALAI M.jpg
सम्मान प्राप्त सैन्यकर्मी "हवलदार एलुमलाई एम"
तिथि 14 सितम्बर 2017
समय ०९:०० बजे (भारतीय मानक समय)
स्थान सुदर्शन चक्र कॉर्प्स ,भोपाल



हवलदार एलुमलाई एम भारतीय सेना के दक्षिणी कमान (भारत) के मद्रास रेजिमेंट में हवलदार के पद पर थे। हवलदार एलुमलाई एम जो की तमिलनाडु प्रदेश के निवासी थे इन्होने १९ वर्ष भारतीय सेना में अपनी ड्यूटी का निर्वाहण किया। ३ फरवरी २०१६ को सियाचिन की सोनम पोस्ट पर हिमस्खलन के दौरान वे वीरगति को प्राप्त हुए। हिमस्खलन के दौरान हवालदार एलुमलाई एम ने अपनी कंपनी कमांडर को रेडियो सेट पर बर्फ में ३५ फुट नीचे से सबसे पहले सूचना देने वालो में से एक थे। इन्होने मुसीबत से समय सैंयम कायम रखते हुए स्थिति पर नियत्रण किया। इनकी अद्भुत साहस सूझ बूझ और समझदारी से बचाव दल ने पहुंच कर बचाव कार्य को पूरा किया।[1]

दृढ कर्त्तव्य निष्ठां ,अकल्पनीय पहल ,कर्मठता और सराहनीय बहादुरी के लिए दक्षिणी कमान अलंकरण समारोह 2017 में हवलदार एलुमलाई एम को " सेना पदक (वीरता) " (मरणोपरांत ) से सम्म्मानित किया गया। मरणोपरांत इनके परिपर में इनकी पत्नी श्रीमती ई जमुना रानी और दो पुत्र कविरासु और श्री प्रियदर्शन हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. https://hi.wikipedia.org/s/bvkg