स्टीव वोज़नियाक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
स्टीव वोज़नियाक
जन्म स्टीफेन गैरी वोज़नियाक:18
(1950-08-11) अगस्त 11, 1950 (आयु 66 वर्ष)
सैन होज़े, कैलिफोर्निया, संयुक्त राज्य अमेरिका
राष्ट्रीयता अमरीकी
अन्य नाम स्टीफेन वॉज़नियाक
वॉज़
विद्यालय कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, बर्कले
व्यवसाय कंप्यूटर वैज्ञानिक
इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर
जीवनसाथी ऐलिस रॉबर्टसन: (वि॰ 1976–80)
कैंडिस क्लार्क: (वि॰ 1981–87)
सुज़ैन मल्कर्ण: (वि॰ 1990–2004)
जैनेट हिल: (वि॰ 2008)
संतान 3
वेबसाइट
woz.org

सस्टीफेन गैरी "स्टीव" वोज़नियाक (जन्म 11 अगस्त1950),[1] जिन्हें वोज़ के नाम से भी जाना जाता है, एक अमरीकी आविष्कारक, कंप्यूटर इंजिनियर और प्रोग्रामर हैं। इन्होने स्टीव जॉब्स और रोनाल्ड वेन के साथ मिलकर एप्पल कंप्यूटर (अब एप्पल इंक०) की स्थापना की। 1970 के दशक में वोज़नियाक ने अकेले ही एप्पल I और एप्पल II कंप्यूटर का अविष्कार किया।

नाम[संपादित करें]

वोज़नियाक को अक्सर "वोज़" या "द वोज़" उपनाम से जाना जाता है।[2] "वोज़" वोज़नियाक द्वारा स्थापित एक कंपनी का नाम भी है।

शुरूआती कैरियर[संपादित करें]

1970 के दशक के मध्य में स्टीव की मां "सनीवेल कम्युनिटी प्लेयर्स" (स्थानीय थिएटर ग्रुप) के बोर्ड की सदस्या थी। "70 गर्ल्स70" नाटक के लिए उन्होंने पहला कम्प्यूटरीकृत अग्रमंच मेहराब बनाया।[तथ्य वांछित]

उस समय वोज़नियाक के दोस्त रहे स्टीव जॉब्स को आर्केड वीडियो गेम ब्रेकआउट के लिए एक सर्किट बोर्ड तैयार करने की ज़िम्मेदारी सौंपी गयी थी। अटारी के सह-संस्थापक नोलन बुशनेल के अनुसार, अटारी मशीन से हटाये गए प्रत्येक चिप के लिए उन्हें 100 डॉलर की पेशकश की गयी थी। स्टीव जॉब्स को सर्किट बोर्ड बनावट के विषय में कम विशेषीकृत जानकारी थी अतः उन्होंने वोज़नियाक के साथ एक सौदा किया। सौदे के अनुसार वोज़नियाक मशीन में चिप्स की संख्या कम करते और उन दोनों के बीच समान रूप से यह राशि विभाजित हो जाती। वोज़नियाक ने रैम का प्रयोग करते हुए कुल 50 चिप्स घटाए। वोज़नियाक के अनुसार, जॉब्स ने उन्हें बताया की अटारी ने उन्हें केवल 700 डॉलर दिए (बजाये पेश किये गए 5,000 के) और इस प्रकार वोज़नियाक का हिस्सा 350 डॉलर बनता था। [3] वोज़नियाक को दस साल बाद जब वास्तविक बोनस की जानकारी मिली, तब उन्होंने कहा की अगर जॉब्स ने उन्हें बताया होता की उन्हें पैसों की ज़रूरत है, तो वह उन्हें स्वयं दे देते।[4]

एप्पल कंप्यूटर[संपादित करें]

एप्पल की स्थापना[संपादित करें]

होमस्टेड हाई स्कूल के एक साथी छात्र, बिल फर्नांडीज ने वोज़नियाक और स्टीव जॉब्स का परिचय एक दुसरे से करवाया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Stephen Wozniak". biography. biography.com. http://www.biography.com/people/stephen-wozniak-9537334. अभिगमन तिथि: April 6, 2012. 
  2. Sean Mulligan. "STEVE "THE WOZ" WOZNIAK: 2011 ISAAC ASIMOV SCIENCE AWARD". American Humanist Association. http://www.americanhumanist.org/HNN/details/2011-03-steve-the-woz-wozniak-2011-isaac-asimov-science-awar. अभिगमन तिथि: May 13, 2012. 
  3. Letters – General Questions Answered (Wayback machine copy from June 2011, as later versions of the page have had this fact removed), Woz.org
    Wozniak, Steven: "iWoz", a: pp. 147–48, b: p. 180. W. W. Norton, 2006. ISBN 978-0-393-06143-7
    Kent, Stevn: "The Ultimate History of Video Games", pp. 71–3. Three Rivers, 2001. ISBN 0-7615-3643-4
    "Breakout". Arcade History. June 25, 2002. http://www.arcade-history.com/index.php?page=detail&id=3397. अभिगमन तिथि: 2010-04-19. 
    "Classic Gaming: A Complete History of Breakout". GameSpy. Archived from the original on July 8, 2012. http://archive.is/20120708/http://classicgaming.gamespy.com/View.php?view=Articles.Detail&id=395. अभिगमन तिथि: 2010-04-19. 
  4. Walter Isaacson: Steve Jobs, Chapter Four – "Atari and India" pp. 104–107. Simon & Schuster (October 24, 2011) ISBN 1-4516-4855-3