स्कॉट मॉरिसन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
माननीय

स्कॉट मॉरिसन
सांसद

स्कॉट मॉरिसन


पदस्थ
कार्यभार ग्रहण 
24 अगस्त 2018
शासक एलिज़ाबेथ द्वितीय
गवर्नर–जनरल सर पीटर कॉस्ग्रोव
डिप्टी माइकल मैककॉर्मेक
पूर्व अधिकारी मैल्कम टर्नबुल

लिबरल पार्टी के नेता
पदस्थ
कार्यभार ग्रहण 
24 अगस्त 2018
डिप्टी जोश फ्राइडनबर्ग
पूर्व अधिकारी मैल्कम टर्नबुल

ऑस्ट्रेलिया के कोषाध्यक्ष
कार्यकाल
21 सितम्बर 2015 – 24 अगस्त 2018
प्रधान  मंत्री मैल्कम टर्नबुल
पूर्व अधिकारी जो हॉकी
उत्तराधिकारी जोश फ्राइडनबर्ग

सामाजिक सेवाओं के मंत्री
कार्यकाल
23 दिसम्बर 2014 – 21 सितम्बर 2015
प्रधान  मंत्री टोनी एबॉट
मैल्कम टर्नबुल
पूर्व अधिकारी केविन एंड्रयूज
उत्तराधिकारी क्रिस्चेन पोर्टर

आप्रवासन और सीमा संरक्षण मंत्री
कार्यकाल
18 सितम्बर 2013 – 23 दिसम्बर 2014
प्रधान  मंत्री टोनी एबॉट
पूर्व अधिकारी टोनी बर्क
उत्तराधिकारी पीटर डटन

सांसद
कुक
पदस्थ
कार्यभार ग्रहण 
24 नवम्बर 2007
पूर्व अधिकारी ब्रूस बेयरड

जन्म 13 मई 1968 (1968-05-13) (आयु 51)
वेवरले, न्यू साउथ वेल्स, ऑस्ट्रेलिया
राजनैतिक पार्टी लिबरल
अन्य राजनैतिक
सहबद्धताएं
गठबंधन
जीवन संगी जेनी वॉरेन
संतान 2
विद्या अर्जन न्यू साउथ वेल्स यूनिवर्सिटी (बी.एससी.)
वेबसाइट आधिकारिक वेबसाईट

स्कॉट जॉन मॉरिसन (जन्म 13 मई 1968) एक ऑस्ट्रेलियाई राजनेता है, वे लिबरल पार्टी के नेता और 24 अगस्त 2018 को ऑस्ट्रेलिया के 30वें प्रधानमंत्री के रूप में चुने गये हैं। वे 2007 से प्रतिनिधि सभा के सदस्य रहे हैं, न्यू साउथ वेल्स में कुक प्रभाग का प्रतिनिधित्व करते हैं।

मॉरिसन का जन्म सिडनी में हुआ था और उन्होंने न्यू साउथ वेल्स विश्वविद्यालय से आर्थिक भूगोल का अध्ययन किया था। राजनीति में प्रवेश करने से पहले, मॉरिसन 1998 से 2000 तक न्यूजीलैंड के टूरिज्म और स्पोर्ट के निदेशक और 2004 से 2006 तक ऑस्ट्रेलिया पर्यटन के प्रबंध निदेशक के रूप में कार्य कर चुके है। वे 2000 से 2004 तक न्यू साउथ वेल्स लिबरल पार्टी के राज्य निदेशक भी थे। मॉरिसन पहली बार 2007 के संघीय चुनाव में प्रतिनिधि सभा के लिए चुने गए। 2010 के चुनाव के बाद उन्हें विपक्षी मोर्चे पर नियुक्त किया गया था।

2013 के चुनाव में गठबंधन की जीत के बाद, मॉरिसन को एबॉट सरकार में आप्रवासन और सीमा संरक्षण मंत्री नियुक्त किया गया था।[1] इस पद में रहते हुए, उन पर गठबंधन की प्रमुख नीतियों में से एक संप्रभु सीमा अभियान को लागू करने की जिम्मेदार थी। दिसंबर 2014 में मंत्रीमंडल में फेरबदल होने के बाद, मॉरिसन को सामाजिक सेवाओं का मंत्री बनाया गया।[2] सितंबर 2015 में जब मैल्कम टर्नबुल ने टोनी एबॉट को प्रधानमंत्री के रूप में प्रतिस्थापित किया तब मॉरिसन को कोषाध्यक्ष के रूप में पदोन्नत किया गया।[3]

अगस्त 2018 में, पार्टी के रूढ़िवादी पक्ष में फैले असंतोष के बाद पीटर डटन ने लिबरल पार्टी के नेतृत्व के लिए टर्नबुल को चुनौती दी। टर्नबुल ने नेतृत्व के लिये हुए मतदान में डटन को हरा दिया, लेकिन तनाव बना रहा और पार्टी ने दूसरी बाद मतदान कराने के पक्ष में फैसला किया; इस बार टर्नबुल उम्मीदवार बनने से पीछे हट गये। दूसरे मतदान में, मॉरिसन एक समझौता उम्मीदवार के रूप में उभरे, उन्होंने ड्यूटन और जूली बिशप को पराजित कर लिबरल पार्टी के नेता और प्रधानमंत्री बनने के लिए चुने गये।[4] 24 अगस्त की संध्या को उन्होंने प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।[5]


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Tony Abbott's cabinet and outer ministry". The Sydney Morning Herald. AAP. 16 September 2013. अभिगमन तिथि 16 September 2013.
  2. "Dutton to immigration in reshuffle". News.com.au. 21 December 2014.
  3. Murphy, Katharine (20 September 2015). "Malcolm Turnbull unveils his ministry". The Guardian. अभिगमन तिथि 20 September 2015.
  4. "Scott Morrison wins Liberal party leadership spill". Nine News. 24 August 2018. अभिगमन तिथि 24 August 2018.
  5. "Scott Morrison sworn in as Prime Minister but policy direction and election strategy remains uncertain". अभिगमन तिथि 25 August 2018.