सेबिया गिरजाघर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सेबिया गिरजाघ
Catedral de Santa María de la Sede
Spain Andalusia Seville BW 2015-10-23 13-04-37.jpg
View of the southeastern side of the Cathedral
धर्म संबंधी जानकारी
सम्बद्धताCatholic
पूजा पद्धतिRoman Rite
चर्च या संगठनात्मक स्थितिम्हान्नगर गिरजाघर
नेतृत्वArchbishop Juan Asenjo Pelegrina
निर्माण वर्ष1507
अवस्थिति जानकारी
अवस्थितिसेबिया , आंदालुसिया, स्पेन
भौगोलिक निर्देशांक37°23′9″N 5°59′35″W / 37.38583°N 5.99306°W / 37.38583; -5.99306निर्देशांक: 37°23′9″N 5°59′35″W / 37.38583°N 5.99306°W / 37.38583; -5.99306
वास्तु विवरण
वास्तुकारAlonso Martínez, Pedro Dancart, Carles Galtés de Ruan, Alonso Rodríguez
प्रकारगिरजाघर
शैलीगोथिक
शिलान्यास1401
निर्माण पूर्ण1528
आयाम विवरण
लम्बाई135 मीटर (443 फीट)
चौड़ाई100 मीटर (330 फीट)
चौड़ाई (नेव)15 मीटर (49 फीट)
ऊँचाई (अधि.)42 मीटर (138 फीट)
शिखर1
शिखर ऊँचाई105 मीटर (344 फीट)
आधिकारिक नाम: Cathedral, Alcázar and Archivo de Indias in Seville
प्रकारCultural
मापदण्डi, ii, iii, vi
संसूचित1987 (11th session)
सन्दर्भ संख्या383
State PartyFlag of Spain.svg स्पेन
RegionEurope and North America
आधिकारिक नाम: Catedral de Santa María de la Sede de Sevilla
प्रकारReal property
मापदण्डMonument
29 December 1928
(R.I.) - 51 - 0000329 - 00000
वेबसाइट
www.catedraldesevilla.es


सेबिया गिरजाघर (अंग्रेज़ीCathedral of Saint Mary of the See, स्पैनिश: Catedral de Santa María de la Sede) एक रोमन कैथोलिक गिरजाघर है। ये सेबिया आंदालुसिया स्पेन में स्थित है। ये गोथिक अंदाज़ का सबसे बड़ा और संसार का तीसरा बड़ा गिरजाघर है। विश्व में यह तीसरा सबसे बड़ा गिरजाघर है। इसे 1987 में यूनेस्को ने विशव विरासत के स्थानों में शामिल किया था। चूँकि बैसेलिका ऑफ़ द नैश्नल श्राइन ऑफ़ अवर लेडी ऑफ़ अपारेसिडा (Basilica of the National Shrine of Our Lady of Aparecida) और सेन्ट पीटर्स बैसेलिका (St Peter's Basilica) बिशपों के निवास स्थान नहीं है, इसलिए इस गिरजाघर को शायद विश्व का सबसे बड़ा कैथेडरल शैली का गिरजाघर मान लिया गया है।[1]

इस जगह पर क्रिस्टोफ़र कोलम्बस को दफ़नाया गया था।

इतिहास[संपादित करें]

गिरजाघर के अन्दर का भाग

सेबिया गिरजाघर को शहर की अमीरी दिखाने के लिए बनाया गया था क्योंकि यह नगर एक विशेष व्यापार केन्द्र के रूप में उभरा था। यह परिवर्तन 1248 के रीकाँगक्वेस्टा (Reconquista) के पश्चात हुआ था। जुलाई 1401 में इस गिरजाघर के निर्माण का निर्णय लिया गया था। एक स्थानीय मान्यता के अनुसार गिरजाघर वालों ने कहा था: Hagamos una Iglesia tan hermosa y tan grandiosa que los que la vieren labrada nos tengan por locos" ("हम तो एक ऐसा गिरजाघर का निर्माण करते हैं जिसे देखकर लोग हमें पागल कहेंगे। ") [2]

सेबिया गिरजाघर का निर्माण 1402 में शुरू हुआ और 1506 तक जारी रहा। पल्ली के पादरी ने अपना आधा वेतन वास्तुकार, कलाकार, काँच के कारीगर, राजमिस्त्री, शिल्पकार और मज़दूर और अन्य खर्चों के भुगतान करने के दे दिया था। [3]

निर्माण समाप्त होने के पाँंच साल के बाद, 1511 में गुंबद ढह गई और गिरजाघर पर काम फिर से प्रारंभ हुआ था। दुर्भाग्य से सेबिया गिरजाघर का गुंबद फिर से 1888 में भूकम्प के कारण यह गुंबद ध्वस्त हो गया था। इसी कारण से काम फिर से शुरू हुआ और 1903 तक जारी रहा। [4] [5]

सेबिया गिरजाघर के निर्माणकारियों ने कुछ कॉलम और अन्य तत्व एक प्राचीन मस्जिद से ली थी जिनमें मस्जिद का एक मीनार भी शामिल है जिसे घण्टा घर का रूप दिया गया था। इसे आज ला गिराल्दा का नाम दिया गया है। यह इस शहर का सबसे प्रसिद्ध चिन्ह है।

कालचक्र[संपादित करें]

  • 1184 - अल-मुहम्मद मस्जिद का निर्माण शुरू कर दिया गया था।
  • 1198 - मस्जिद का के सभी निर्माण कार्यों के समापन की घोषणा।
  • 1248 - फर्डिनेंड तृतीय द्वारा सेविला पर विजय; मस्जिद आकार को गिरजाघर जैसे किया गया।
  • 1376 - भूकंप के द्वारा मीनार नष्ट, घंटा घर बनाया गया था।
  • 1401 - (8 जुलाई ) मस्जिद को पूरी तरह से हटाने का निर्णय लिया गया था।
  • 1466 - जुआन द्वितीय राज के गिरजाघर को गिराने निर्णय लिया गया था।
  • 1467 - पूर्व कोना बना दिया गया।

गैलरी[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

स्रोत[संपादित करें]

  • John Harvey, The Cathedrals of Spain
  • Luis Martinez Montiel, The Cathedral of Seville

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "The other Europe: Cinque Terre, Bruges, Rothenburg, Edinburgh, Seville". Dallas Morning News. 2009-05-31. अभिगमन तिथि 2009-06-01.
  2. Juan José Asenjo Pelegrina Archbishop of Seville (11 December 2012). "Una catedral para el siglo XXI". Archdiocese of Seville. मूल से February 2, 2014 को पुरालेखित. Address by the Archbishop of Seville in the ceremony commemorating the twenty-fifth anniversary of the declaration of the monumental complex of the Cathedral, Alcázar and Archivo de Indias World Heritage Site by युनेस्को
  3. Walter Matthew Gallichan; Catherine Gasquoine Hartley (1903). The Story of Seville. J.M. Dent & Company. पृ॰ 88.
  4. GallichanHartley 1903, p. 86
  5. Havelock Ellis (1915). The Soul of Spain. Houghton. पृ॰ 355.