सूक्ष्मतरंग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
माइक्रोवेव टॉवर

सूक्ष्मतरंगें (माइक्रोवेव) वो विद्युतचुम्बकीय तरंगें हैं जिनकी तरंगदैर्घ्य १ मीटर से लेकर १ मिलीमीटर के बीच हो। दूसरे शब्दों में, इनकी आवृति 300 MHz (मेगाहर्ट्ज) से लेकर 300 GHz बीच होती है। यह परिभाषा व्यापक रूप से दोनों परा उच्च आवृति (UHF) और अत्यधिक उच्च आवृति (EHF) (मिलीमीटर तरंग) को शामिल करती है। भिन्न-भिन्न स्रोत, विभिन्न सीमाओं का उपयोग करते हैं।

आवृत्ति के बैण्ड[संपादित करें]

माइक्रोवेव स्पेक्ट्रम में प्रायः 1 GHz से 1,000 GHz की तरंगें आती हैं किन्तु कुछ परिभाषाओं में १ गीगाहर्ट्ज से कम आवृत्तियों को भी माइक्रोवेव कह दिया जाता है। माइक्रोवेव के अधिकांश अनुप्रयोग 1 से 40 GHz.के बीच काम करते हैं।

नीचे की सारणी में माइक्रोवेव को विभिन्न बैण्डों में बाँटा गया है (ग्रेट ब्रिटेन की रेडियो सोसायटी के अनुसार) :

माइक्रोवेव का विभिन्न बैण्डों में विभाजन
बैण्ड का नाम आवृत्ति की परास (रेंज)
L 1 – 2 GHz
S 2 – 4 GHz
C 4 – 8 GHz
X 8 – 12 GHz
Ku 12 – 18 GHz
K 18 – 26 GHz
Ka 26 – 40 GHz
Q 30 – 50 GHz
U 40 – 60 GHz
V 50 – 75 GHz
E 60 – 90 GHz
W 75 – 110 GHz
F 90 – 140 GHz
D 110 – 170 GHz

उपयोग[संपादित करें]

माइक्रोवेव के स्रोत[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]