सन्तोषी माता

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सन्तोषी माता को हिन्दू धर्म में कुछ लोग देवी मानते हैं वे शुक्रवार को इसका व्रत भी रखते हैं। व्रत के दौरान खट्टे पदार्थों का सेवन वर्जित है। उनकी ऐसी मान्यता है कि सन्तोषी माता का व्रत श्रद्धापूर्वक रखने से घर और परिवार में सुख, समृद्धि व सन्तोष की प्राप्ति होती है।

अब तो कुछ स्थानों पर सन्तोषी माता के मन्दिर भी बनने लगे हैं। जलालाबाद (शाहजहाँपुर) में ऐसा ही एक मन्दिर है।