सदस्य:Emasterji

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

कुछ महत्वपूर्ण बातें[संपादित करें]

लूंग और जेली
लूंग और जेली
  • जीवन तो है चलने का नाम। अतः चलते रहिए सुबह और शाम, दिन और रात। चलते रहने पर मंजिल जरूर मिलती है। अपने लक्ष्य को ध्यान में रखकर लगातार चलते रहो। 
  • चलते-चलते समय के साथ हमें भी बदलना चाहिये,कारण-आने वाली नयी पीढ़ी हमारे से ज्यादा बुद्धिमान होगी। अतः अपने आपको समय के साथ बदलने की आदत डालो। सुखमय जीवन के लिए सामंजस्य बैठना जरुरी है।
  • वही प्राणी सुखी रहेगा जो वातावरण के अनुसार अपने को सहजता से बदल लेगा। हमें अपनी जिद पर अड़े नहीं रहना है। अपने अहं भाव को छोड़कर दूसरों की बात मान लेनी है। दूसरों की बात मान लेने के दो कारण। पहला तो यह कि जो सामने वाला व्यक्ति कह रहा है वह भी सत्य है। इस नश्वर संसार में कोई भी बात सत्य/असत्य कैसे हो सकती है। दूसरी बात यह है कि जो सामने वाले व्यक्ति में परम तत्व विद्यमान है वही परम तत्व हमारे शरीर में भी विद्यमान है। अतः वह भी हमारा ही अंश है।
  • दुनिया में मैं उसी व्यक्ति को सफल मानता हूं जो अपना अहंभाव,जिद, छोड़ करके दूसरों की बात मान लेता है।
  • जीवन में अनुभव काफी कुछ सिखा जाते हैं। और अनुभव काम करने पर प्राप्त होते हैं। काम सही दिशा में किया जाये तो फल भी उत्तम होगा व अनुभव भी उत्तम होंगे।
  • मेरे विचार से सभी मनुष्यों का एक ही धर्म है- हिन्दू सनातन धर्म।  ईसाई धर्म, ईसा मसीह से पहले नहीं था। इसी प्रकार मुहमम्द साहब ने जो मुस्लिम धर्म चलाया वह भी २००० साल से ज्यादा पुराना नहीं है।  अन्य धर्मों के बारे में भी यही बात है। आप भी खोज कर लीजिये। हिन्दू धर्म सभी धर्मों का मूल है। इस हिसाब से पृथ्वी के सभी निवासी मेरे ही भाई बंधू है। वे मुझसे अलग नहीं हैं। अतः सभी मुझे बड़े प्रिय हैं।
  • जीवन में आगे बढने के लिए ज्ञान प्राप्त करना बहुत जरुरी है। और ज्ञान मिलता है विकिपीडिया से। इसलिए इसे मजबूत बनाना अच्छी बात है।



मेरे द्वारा निर्मित कुछ चित्र---[संपादित करें]


विकिपीडिआ पर मेरा योगदान



जय हिंद

यह सदस्य मूल रूप से भारतीय है।




hi इस सदस्य की मातृभाषा हिन्दी है।