संजीवनी टुडे

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

संजीवनी टुडे एक भारतीय हिन्दी भाषा का समाचार पत्र है जो राजस्थान की राजधानी जयपुर से प्रकाशित होता है। यह अंतर्जाल पर ईपेपर तथा ऑनलाइन वेबसाइट के तौर पर भी उपलब्ध है। वर्तमान में इस समाचार पत्र के सम्पादक राजेश मीणा है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  • जालस्थल
  • सामाजिक क्रान्ति व महिला शिक्षा की अग्रदूत प्रथम भारतीय महिला शिक्षिका माता सावित्री बाई फुले जिन्होंने अपने पति महात्मा ज्योति बा फुले का साथ लेकर पूरे जीवन काल मे भारतीय समाज मे व्याप्त बुराइयों को समाप्त करने का बीड़ा उठाया,बालिकाओं के लिए आधुनिक भारत मे बालिका विद्यालय की स्थापना कर शिक्षा के द्वार खोले ऐसी महान भारतीय नारी का 188 वां जन्मदिवस 3 जनवरी को नवयुवक मंडल माली खेड़ा व महात्मा ज्योति बा फुले संस्थान के सयुक्त तत्वाधान में  महिला शिक्षिका दिवस के रूप में धूमधाम से मनाया गया। सचिव सुमित माली ने बताया कि जन्मदिवस के उपलक्ष में प्रातः 10 बजे सावित्री बाई फुले चौराहा महिला आश्रम माली खेड़ा में  सावित्री बाई फुले को माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की गई साथ ही उनके जीवन में उनके द्वारा किये गए महान कार्यो का स्मरण किया गया व उनके विचारों को जन जन तक पहुचाने का कार्य किया जाएगा। कार्यक्रम में पूर्व पार्षद नंदलाल माली ,बद्री परेता, राजकुमार माली,पार्षद विजय लढ़ा, युवा प्रदेश सचिव दिनेश माली,छोटू माली,दुर्गालाल,भवँर लाल,प्रेम देवी,निशा जैन, शांति लाल,रोशन,शहर अध्यक्ष गोपाल,बालू लाल,उदय लाल,बरदु, राजू,राजेन्द्र,बंशीलाल,संपत, लालाराम,मुकेश,किशन,गंगाराम,रतन, बाबू,देवीलाल,पिरु,चांदमल,लालूराम,शंकरलाल,मदन, केसर बाई, नंदू देवी अनिता आर्य सहित अनेक क्षेत्रवासी व माली सैनी समाज बंधु उपस्तिथ थे। समाज के युवाओं द्वारा पशु चिकित्सालय में बीमार पशुओं को चारा वितरण किया गया,साथ ही सेठ मुरलीधर मानसिहंका राजकीय महाविद्यालय व स्कूलों में सावित्री बाई फुले की तस्वीर वितरित की गई। महात्मा ज्योति बा फुले व सावित्री बाई फुले को सयुक्त भारत सरकार की ओर से जल्द ही देश का सर्वोच्चय सम्मान भारत रत्न मिले व 3 जनवरी को महिला शिक्षा दिवस के रूप में मनाया जाए इसकी मांग भी उठाई गई।

सावित्री बाई फुले जयंती पर किया नमन