संक्रामक गर्भपात

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

संक्रामक गर्भपात या ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) एक अत्यन्त संक्रामक पशुजन्यरोग है। इसे क्रिमियाई ज्वर, माल्टा ज्वर तथा बैंग का रोग आदि कई नामों से जाना जाता है। यह रोग पूरे संसार में होता है। यह मानवों, पालतू पशुओं तथा वन के पशुओं को होता है। यह ब्रूसेला एबोर्टस (Brucella abortus), ब्रूसेला मेलिटेंसिस (B. melitensis), ब्रूसेला सुइस (B. suis), ब्रूसेला ओविस (B. ovis) और ब्रूसेला कनिस (B. canis) द्वारा फैलता है।

जब पशु चारे के साथ इन जीवाणुओं को अपने आहारनाल में लेते हैं तो यह रोग पशुओं को लगता है। इसके अलावा आंख और नाक की श्लेष्मा (mucosa) द्वारा भी पशु इससे ग्रसित हो सकता है। यदि संक्रमित पशु के वीर्य से किसी पशु का कृत्रिम गर्भाधान किया जाय तो भी उसे यह रोग लग जाता है।

किसी गाय आदि पशु को इस रोग से गर्भपात होने पर इसके कारण दूसरे पशुओं या स्त्रियों को भी यह रोग लगने की बहुत सम्भावना रहती है। ये परजीवी संक्रमित गायों के दूध में भी होते हैं।

रोग की पहचान[संपादित करें]

जब गाय आदि किसी पशु का गर्भपात हो तो ब्रूसेलोसिस की शंका होती है। किन्तु जीवाणु-परीक्षण द्वारा ही इसका पक्का निर्णय होता है।

रोकथाम[संपादित करें]

इस रोग से संक्रमित पदार्थों की पूरी सफाई से हंदिळ करने तथा सभी पशुओं को टीका लगाना ही इसका उपचार है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]