संकर एकीकृत परिपथ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एक प्रिंटित परिपथ बोर्ड पर नारंगी रंग के एपॉक्सी में गड़ा हुआ संकर परिपथ
एक संकर परिपथ जिसमें लेजर से ट्रिम किये गये प्रतिरोध लगे हैं (काले रंग के क्षेत्र)

अलग-अलग एलेक्ट्रॉनिक अवयवों (डायोड, ट्रान्जिस्टर, प्रतिरोध, सन्धारित्र आदि) को किसी उपयुक्त आधार (जैसे पीसीबी आदि) पर जोडकर निर्मित लघु आकार के परिपथ को संकर एकीकृत परिपथ (हाइब्रिड इन्टीग्रेटेड सर्किट) कहते हैं। संकर परिपथों को प्रायः ऊपर से एपॉक्सी से ढक दिया जाता है।

संकर एकीकृत परिपथ, सामान्य एकीकृत परिपथ जैसे ही उपयोग किये जाते हैं - अर्थात किसी एक अवयव की भांति। अन्तर केवल यह है कि सामान्य एकीकृत परिपथ के अन्दर लगे हुए अवयव एक साथ ही निर्मित किये जाते हैं जबकि संकर एकीकृत परिपथ में प्रयुक्त अवयव पहले से निर्मित अवयव होते हैं जो कहीं और भी उपयोग में लिये जा सकते थे। संकर परिपथ का एक बहुत बड़ा लाभ यह है कि इनमें वे भी अवयव उपयोग में लाये जा सकते हैं जिन्हें सामान्य एकीकृत परिपथों में निर्मित करना कठिन या असम्भव होता है, जैसे बड़े-बड़े सन्धारित्र (कैपेसिटर), क्रिस्टल, तार लपेटकर बने ट्रान्सफार्मर, चोक आदि।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]