श्री राम जानकी संस्कृत महाविद्यालय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
श्री राम जानकी संस्कृत महाविद्यालय गौरियापुर ,अकबरपुर ,कानपुर देहात
गौरियापुर पाठशाला
श्री राम जानकी संस्कृत महाविद्यालय

स्थापना:1929
प्रधानाचार्य:अरुण कुमार त्रिपाठी
विद्यार्थी:200
स्थिति:गौरियापुर, अकबरपुर, कानपुर देहात , कानपुर देहात जिला उत्तर प्रदेश भारत

श्री राम जानकी संस्कृत महाविद्यालय उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात जिले के अकबरपुर के गौरियापुर में स्थित[1]प्रमुख संस्कृत महाविद्यालय है। यह राज्य सरकार से सहायताप्राप्त [2] और सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय से सम्बद्ध है।kripya gurujan charitra namak pustak bhi on line Karen mahan day hogi.

इतिहास[संपादित करें]

बद्रीदास

बद्री दास (मूर्ति)

ने वर्ष १९२९ में इस संस्कृत पाठशाला की स्थापना की।

श्री राम जानकी संस्कृत महाविद्यालय (इतिहास )

वर्ष १९४६ में श्री राम जानकी धर्म प्रचार समिति का गठन किया गया। २९ जून १९४६ को श्री राम जानकी धर्म प्रचार समिति का निबंधन हुआ। १९४८-१९४९ में महाविद्यालय का अपना निजी भवन हो गया और इसी वर्ष उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मान्यता के साथ अनुदान भी प्राप्त हो गया।

वर्ष १९५७ में सरकार द्वारा निर्धारित "आदर्श संस्कृत विद्यालय योजना " में इस विद्यालय का चयन किया गया। वर्ष १९६६ में यह महाविद्यालय राज्य सरकार द्वारा "ख " वर्ग में घोषित हुआ।

स्थिति[संपादित करें]

यह संस्कृत महाविद्यालय अकबरपुर ,कानपुर देहात से दक्षिण -पश्चिम दिशा में लगभग ८ किलोमीटर की दूरी पर कानपुर-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग के बायीं ओर स्थित ग्राम गौरियापुर में सेंगुर नदी के तट पर स्थित है।

गुरुकुल प्रणाली शिक्षा[संपादित करें]

इस महाविद्यालय में शिक्षा की गुरुकुल प्रणाली है।

छात्रावास[संपादित करें]

लगभग ५० छात्रों के लिए छात्रावास की व्यवस्था।

पाठ्यक्रम[संपादित करें]

  • पूर्व मध्यमा १, २
  • उत्तर मध्यमा १, २
  • शास्त्री १, २, ३
  • आचार्य १, २ [3]
  1. साहित्य
  2. नव्य
  3. वेद
  4. वेदांत

संरक्षक[संपादित करें]

देव नारायण दास

प्रबंधन[संपादित करें]

  • अध्यक्ष :
  • प्रबंधक : रमाकांत मिश्र
  • सचिव : महेंद्र प्रसाद मिश्र

प्रधानाचार्यों की सूची[संपादित करें]

  1. लक्ष्मी नारायण चतुर्वेदी (1945-1982)
  2. रामरूप दास (1982-1984)
  3. राम औतार अग्निहोत्री (1984-1991)
  4. गोविन्द दास (1991-1992)
  5. राम कुमार दास (1992-2002)
  6. राम औतार अग्निहोत्री (2002-2010)
  7. वेद नारायण पाण्डेय (2010-जून 2015) [4]
  8. अरुण कुमार त्रिपाठी (जुलाई २०१५ से अबतक )

चित्र वीथी[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

2015}}