श्रीविजय राजवंश

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
८वीं शताब्दी के आसपास श्रीविजय साम्राज्य का विस्तार सर्वाधिक था।
श्रीविजय शैली का पगोड़ा (चैय, थाइलैण्ड)

श्रीविजय राजवंश इंडोनेशिया का एक प्राचीन राजवंश था। इस राज्य की स्थापना चौथी शती ई. में या उससे भी पहले हुई थी।सातवीं शताब्दी में 'श्रीविजय' या 'श्रीभोज' वैभव के शिखर पर था।

परिचय[संपादित करें]

671 ई. में चीनी यात्री इत्सिंग श्रीभोज होते हुए भारत आया था। उसने यहां की राजधानी 'भोज' लिखी है। चीनी यात्री इत्सिंग के लेख के अनुसार श्रीविजय बौद्ध संस्कृति तथा शिक्षा का केन्द्र था। 7वीं शती ई. में मलय प्रायद्वीप में भी श्रीविजय की राज्य सत्ता स्थापित हो गई थी। श्रीविजय का नामांतर 'श्रीविषय' है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]