शृंखला अभिक्रिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

किसी अभिक्रिया का बार-बार इस प्रकार होना कि अभिक्रियाशील उत्पाद या उप-उत्पाद के द्वारा फिर वही अभिक्रिया होने लगे तो ऐसी अभिक्रिया को शृंखला अभिक्रिया या चेन रिएक्सन कहते हैं। शृंखला अभिक्रिया में धनात्मक फीडबैक की स्थिति रहती है और इससे अभिक्रिया स्वतःप्रवर्धित होती जाती है।

शृंखला अभिक्रिया कई प्रकार के निकायों में देखने को मिलती है, जैसे रासायनिक शृंखला अभिक्रिया, नाभिकीय शृंखला अभिक्रिया, गैसों में इलेक्ट्रॉन अवलांच, अर्धचालकों में अवलांच ब्रेकडाउन, अर्थतंत्र में शृंखला अभिक्रिया आदि।

नाभिकीय विखण्डन की शृंखला अभिक्रिया; इसकी गति क्रमशः बढ़ती जाती है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]