व्यापारिक कृषि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

व्यापारिक कृषि, एक प्रकार की खेती है जिसमें फसलों को केवल व्यावसायिक उपयोग के लिए उगाया जाता है। यह खेती का एक आधुनिक तरीका है जो बड़े पैमाने पर किया जाता है। इस प्रकार की खेती में बड़ी भूमि, श्रम और मशीनों का उपयोग किया जाता है। एक्वापॉनिक्स खेती व्यावसायिक खेती का सबसे अच्छा तरीका है क्योंकि इस खेती में हम एक ही कृषि प्रणाली में पौधों और मछलियों को विकसित कर सकते हैं। तो यह हमारी उत्पादन लागत को कम कर सकता है और खेती के हमारे लाभ को बढ़ा सकता है। कृषि के वाणिज्य करण का स्तर विभिन्न प्रदेशों में अलग-अलग है उदाहरण के लिए हरियाणा और पंजाब में चावल वाणिज्य की एक फसल है परंतु ओड़िशा में यह एक आजीविका फसल है। रोपण कृषि भी एक प्रकार की वाणिज्यिक खेती है इस प्रकार की खेती में लंबे चौड़े क्षेत्र में एकल फसल बोई जाती है रोपण कृषि, उद्योग और कृषि के बीच एक अंतरा पृष्ठ(Interface) है।

कृषि के प्रकार पृथ्वी
गहन कृषि | जीविका कृषि |ट्रक कृषि | दुग्ध कृषि | मिश्रित कृषि | विशिष्ट बागवानी कृषि | विस्त्रत कृषि | व्यापारिक कृषि | व्यापारिक बगाती कृषि | स्थानान्तरी कृषि