जीविका कृषि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

जीविका कृषि, कृषि करने का एक प्रमुख प्रकार है। कृषकों द्वारा अपने परिवार की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए इस प्रकार की कृषि को किया जाता है। पारम्परिक रूप से कम उपज प्राप्त करने के लिए निम्न स्तरीय प्रौद्योगिकी और पारिवारिक श्रम उपयुक्त होता है। जीविका कृषि को पुनः आदिम कृषि और गहन कृषि में वर्गीकृत किया जा सकता है।

आदिम जीविका कृषि[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: स्थानान्तरी कृषि

इस प्रकार के कृषि को भारत में कुछ भागों में वर्तमान में भी की जाती है। इस कृषि को भूमि में छोटे टुकड़ों पर आदिम उपकरणों जैसे हल, हँसिया,और पारिवारिक श्रम से की जाती है। यह कृषि मृदा की प्राकृतिक उर्वरता, पावस और पर्यावरणीय परिस्थितियों पर निर्भर करता है। इस प्रकार में स्थानान्तरी कृषि और चलवासी पशुचारण शामिल हैं।

गहन जीविका कृषि[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

कृषि के प्रकार पृथ्वी
गहन कृषि | जीविका कृषि |ट्रक कृषि | दुग्ध कृषि | मिश्रित कृषि | विशिष्ट बागवानी कृषि | विस्त्रत कृषि | व्यापारिक कृषि | व्यापारिक बगाती कृषि | स्थानान्तरी कृषि