पृष्ठ से जुड़े बदलाव

Jump to navigation Jump to search

किसी पन्ने के हवाले कई पन्नों में मौजूद हो सकते हैं, यह सूची उन पन्नों (या किसी श्रेणी के सदस्यों) में हुए हाल के बदलाव दिखाती है। आपकी ध्यानसूची में मौजूद पन्ने मोटे अक्षरों में दिखेंगे।

हाल के परिवर्तन संबंधी विकल्प पिछले 1 | 3 | 7 | 14 | 30 दिनों में हुए 50 | 100 | 250 | 500 बदलाव दिखाएँ
लॉग्ड इन सदस्यों के परिवर्तन छुपाएँ | अनामक सदस्यों के परिवर्तन छुपाएँ | मेरे परिवर्तन छुपाएँ | बॉट दिखाएँ | छोटे परिवर्तन छुपाएँ | दिखाएँ पृष्ठ श्रेणीकरण | विकिडेटा दिखाएँ
15:04, 17 जनवरी 2020 से नए परिवर्तन दिखाएँ।
   
पृष्ठ नाम:
संकेतों की सूची:
इस संपादन से नया पृष्ठ बना (नए पन्नों की सूची को भी देखें)
छो
यह एक छोटा सम्पादन है
बॉ
यह संपादन एक बॉट द्वारा किया गया था
डा
Wikidata परिवर्तन
(±123)
पृष्ठ आकार इस बाइट संख्या से बदला

17 जनवरी 2020

15 जनवरी 2020

14 जनवरी 2020

  • छो १ जनवरी 15:21 +113Niranjan0360 चर्चा योगदानटैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
  • १४ जनवरी 07:08 -104Gopaljirai चर्चा योगदान/* निधन *जयशंकर प्रसाद (३० जनवरी १८८९ - १५ नवंबर १९३७)[1][2], हिन्दी कवि, नाटककार, उपन्यासकार तथा निबन्धकार थे। वे हिन्दी के छायावादी युग के चार प्रमुख स्तंभों में से एक हैं। उन्होंने हिन्दी काव्य में एक तरह से छायावाद की स्थापना की जिसके द्वारा खड़ी बोली के काव्य में न केवल कमनीय माधुर्य की रससिद्ध धारा प्रवाहित हुई, बल्कि जीवन के सूक्ष्म एवं व्यापक आयामों के चित्रण की शक्ति भी संचित हुई और कामायनी तक पहुँचकर वह काव्य प्रेरक शक्तिकाव्य के रूप में भी प्रतिष्ठित हो गया। बाद के प्रगतिशील एवं नई / टैग: यथादृश्य संपादिका

12 जनवरी 2020