विद्युत स्विचगीयर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
तैल परिपथ त्रोटक (आयल सर्किट ब्रेकर)

विद्युत शक्ति प्रणाली में विद्युत परिपथ को जोड़ने/तोड़ने वाली स्विचों, फ्यूजों, तथा परिपथ त्रोटक आदि को सम्मिलित रूप से वैद्युत स्विचगीयर (switchgear) कहते हैं। इनका उपयोग विद्युत शक्ति प्रणाली को नियंत्रित करने, संरक्षित करने तथा विलगित करने (isolate) के लिए किया जाता है। विद्युत परिपथ को तोड़ने की आवश्यकता मुख्यतः दो कारणों से होती है-

  • (१) विद्युत प्रणाली के किसी भाग की मरम्मत आदि करने के लिए तथा
  • (२) किसी प्रकार का कोई दोष (फाल्ट) होने पर दोषी भाग को अन्य भाग से काट देने सेन्य उपकरण खराब नहीं होते और दोषयुक्त भाग को छोड़कर शेष भाग ठीक प्रकार से काम करता रहता है।

अतः विद्युत स्विचगीयर बहुत महत्वपूर्ण हैं क्योंकि इनका सम्बन्ध विद्युत प्रदाय (electricity supply) की उपलब्धता, विश्वसनीयता तथा उपकरणों की सुरक्षा से जुड़ा है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]