फ्यूज

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
80 kA ब्रेकिंग क्षमता वाला कोई औद्योगिक फ्यूज


वैद्युत प्रौद्योगिकी एवं एलेक्ट्रॉनिकी फ्यूज (fuse), परिपथ का एक संरक्षात्मक (प्रोटेक्टिव) अवयव है जो एक नियत मात्रा से अधिक धारा बहने पर परिपथ को तोड देता है। इस प्रकार परिपथ में स्थित अन्य मूल्यवान अवयव अत्यधिक धारा के कारण खराब होने से बच जाते हैं। फ्यूज शब्द फ्यूजिबल लिंक का लघु रूप है। मोटे तौर पर एक धातु की तार या पट्टी इसका मुख्य भाग है जो अधिक धारा बहने की दशा में पिघल जाती है और इस प्रकार परिपथ टूट जाता है।

एक सरल परिपथ में फ्यूज की स्थिति
कुछ अलग-अलग प्रकार के फ्यूज
मोटरगाड़ियों में लगाये जाने वाले फ्यूज
विभिन्न प्रकार के फ्यूज-होल्डर

अर्धचालक फ्यूज[संपादित करें]

अर्धचालक फ्यूज वे फ्यूज हैं जो बहुत जल्दी फ्यूज हो जाते हैं जिस कारण वे अर्धचालक युक्तियों (जैसे एससीआअर) की रक्षा के लिये प्रयुक्त किये जा सकते हैं। ये किसी अर्धचालक पदार्थ के नहीं बने होते बल्कि चाँदी आदि सुचालक धातुओं के ही बने होते हैं। विशेष बात यह है कि इनकी i2t रेटिंग बहुत कम होती है। चूँकि अर्धचालक युक्तियाँ धारा के प्रति बहुत संवेदनशील होतीं हैं तथा माइक्रोसेकेण्द के लिये भी अधिक धारा जाने से खराब हो जातीं हैं।

इन्हे भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]