वित्तोरियो दे सिका

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
वित्तोरियो दे सिका
S Kragujevic, Vittorio De Sica, 1959.JPG
साठ के दशक में वित्तोरियो दे सिका
जन्म 7 जुलाई 1901
सोरा, लाज़ियो, इटली
मृत्यु 13 नवंबर 1974 (आयु 73)
नियोली, फ्रांस
व्यवसाय फिल्म निर्देशक, अभिनेता
सक्रिय वर्ष 1917–1974
धार्मिक मान्यता कैथोलिक गिरजाघर
जीवनसाथी गियोदिता रेसों (m. 1937–54)
मारिया मर्सेदा (m. 1959–74)
बच्चे एमी दे सिका
मैनिएल दे सिका
ख्रिस्तिन दे सिका
पुरस्कार Golden Globe Award for Best Foreign Language Film[*]
जालस्थल http://www.desica.ru/

वित्तोरियो दे सिका (इतालवी: Vittorio de Sika, 7 जुलाई, 1901-17 नवंबर, 1974) एक प्रसिद्ध इतालवी फ़िल्म निर्देशक थे। उनकी गणना नवयथार्थवादी फिल्मकारों की अगली पंक्ति में की जाती है।[1]

जीवनी[संपादित करें]

वित्तोरियो दे सिका का जन्म इटली के सोरा लाज़ियो के एक बेहद निर्धन परिवार में हुआ था। उन्होंने परिवार की मदद के लिए 19 वर्ष की आयु में रंगमंच के लिए अभिनेता के रूप में काम करना शुरू कर दिया। उन्होंने 1923 में तातियाना पाव्लोवा नाम की रंगमंच कंपनी को अपनी सेवाएं देनी शुरू की। रंगमंच पर मिली सफलता से उत्साहित होकर वित्तोरियो दे सिका ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर 1933 में अपनी खुद नाट्य मंडली बना ली। इस नाट्य मंडली के प्रदर्शनों के दौरान ही उनकी मुलाकात सेजोर ज़वात्तिनी से हुई। ज़वात्तिनी के साथ मिलकर दे सिका ने शूसाइन और द बाइसिकिल थीव्स जैसी फिल्मों का निर्माण किया।

फिल्म निर्माण[संपादित करें]

बतौर अभिनेता दे सिका ने 1940 में ही इतालवी फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था लेकिन फिल्म निर्देशक के रूप में उनकी पहली फिल्म थी शूसाइन । इस फिल्म के लिए दे सिका सर्वश्रेष्ट पटकथा के लिए ऑस्कर सम्मान मिला। ऑस्कर में ये पहली विदेशी भाषा की फिल्म थी जिसे पहचान और सम्मान दोनो मिला। इसके दो साल बाद 1948 में प्रदर्शित दे सिका की फिल्म द बाइसिकिल थीव्स ने तो सफलता के नए प्रतिमान ही गढ़ दिए। इस फिल्म को भी सर्वश्रेष्ठ लेखन के लिए ऑस्कर सम्मान मिला लेकिन इससे भी बढ़कर सम्मान की बात ये थी कि इस फिल्म की सफलता के बाद विदेशी भाषा में ऑस्कर सम्मान की स्थायी श्रेणी की स्थापना हो गई। द बाइसिकिल थीव्स की गणना सिनेमा कते इतिहास में 15 सबसे ज्यादा प्रभावकारी फिल्मों में की जाती है।[2]

सम्मान[संपादित करें]

1971 में बर्लिन अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह में वित्तोरियो दे सिका को इंटरफिल्म ग्रैंड प्रिक्स से सम्मानित किया गया। हालांकि दे सिका को मिले पुरस्कारों और सम्मानों की सूची लंबी है।

  • फिल्म मिराकोलो अ मिलानो के लिए कान्स फिल्म समारोह का पाम दी ओर पुरस्कार
  • फिल्म टीटो के लिए कान्स फिल्म समारोह का ओसिस पुुरस्कार
  • फिल्म अन्ना दी ब्रुकलिन के लिए बर्लिन अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह में गोल्डन बियर पुरस्कार
  • फिल्म शूसाइन के लिए नेस्ट्रो डी अर्जेंटो का सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार
  • फिल्म शूसाइन के लिए ऑस्कर सम्मान
  • फिल्म द बाइसिकिल थीव्स के लिए ऑस्कर सम्मान
  • फिल्म लेरी, ओगी,दोमनी के लिए ऑस्कर सम्मान
  • फिल्म गियार्दिनो दे फ़िन्जी-कॉन्तिनी के लिए ऑस्कर सम्मान

'द बाइसिकिल थीव्स' के कुछ दृश्य[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियां[संपादित करें]

  • imdb.com पर वित्तोरियो दे सिका [1]