लोहार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
लोहार का काम

लोहार एक भाारत की प्रमुख जाति है जो भारत के हर राज्य मै बहुुुुतायत मै पाई जाती है

उस जाति को लोहार कहते हैं जो लोहा या इस्पात का उपयोग करके विभिन्न वस्तुएँ बनाता है। हथौड़ा, छेनी, भाथी (धौंकनी) आदि औजारों का पयोग करके लोहार फाटक, ग्रिल, रेलिंग, खेती के औजार(इसलिए इनको ओझा,झा आदि भी कहते है),बर्तन, हथियार आदि बनाता है।

भारत में लोहार एक प्रमुख व्यावसायिक जाति है। इनकी जनसंख्या लगभग 10 करोड है जिनके इस्ट देव भगवान विश्वकर्मा है

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]