लोपामुद्रा मित्रा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search


लोपामुद्रा मित्रा
लोपामुद्रा मित्रा
लोपामुद्रा मित्रा
पृष्ठभूमि की जानकारी
मूलकलकत्ता, पश्चिम बंगाल, भारत
शैलियांजीवोन्मुखी, आधुनिक बंगाली गीत, रवीन्द्र संगीत,
सक्रिय वर्ष1996–अभी तक
संबंधित कार्यगायिका
लोपामुद्रा मित्रा
जीवनसाथी साँचा:विवाहित

लोपामुद्रा मित्र (बंगाली: লোপামুদ্রা মিত্র) एक भारतीय गायिका हैं जो रवीन्द्र संगीत, आधुनिक बंगाली गीत और लोक गीत गाती हैं। सन २००१ में उनका विवाह कोलकाता के बंगाली संगीत निर्देशक / संगीतकार और जाने-माने गिटारवादक जाॅय सरकार (सौरभ सरकार) से हुआ।

जीवनी[संपादित करें]

लोपामुद्रा का जन्म पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर जिले के गंगारामपुर में हुआ था। उनको संगीत की पहली शिक्षा अपने पिता प्रणब मित्र से प्राप्त हुई। उन्होने कोलकाता विश्वविद्यालय के गटिगा बसंती देवी महाविद्यालय में अध्ययन किया।

लोपामुद्रा इस प्रवृत्ति की निषेधाज्ञा थीं,जोय गोस्वामी की कविता मालतीबाला बालिका बिद्यायल पर आधारित गीत बेनीमाधब के गायन से संगीत प्रेमियों को अपने गुरु समीर चट्टोपाध्याय के सुर में पिरोती थी।

डिस्कोग्राफ़ी[संपादित करें]

आधुनिक गाने का संग्रह

  • अन्न्या हवा (1996)
  • अन्न हवर अन्नदान गान (1999)
  • संकोटा दुलची (1999)
  • भालोबशतेय बोलो (2000)
  • डाकिए आकाश (2001)
  • कोबीटा थेके गण (2002)
  • ई अबेले (2003)
  • ई घर तोखन (2003)
  • प्राण खोला गाँव (2003)
  • झोर होते परी (2004)
  • एक तुकारो रोड (2005)
  • एमोनो होय (2006)
  • छटा धरो[1] (2007)
  • पो ई पोरा फो ई फेल (2008)
  • गालफुनी खुकुमोनी (2009)
  • मोनफोकिरा (2011)
  • वंदे मातरम (2014)

टैगोर के गाने

  • बिस्मोए (टैगोर गीत) (2004)
  • कोठा शेष (टैगोर गीत)
  • ओ मोर डोरोडिया (टैगोर गाने)
  • मोन रेखो (टैगोर गाने, 2006)[2]
  • आनंद - द एक्स्टसी (जोय सरकार और दरबादल चटर्जी द्वारा संगीत व्यवस्था, 2009)
  • खोमा कोरो प्रभु (2015)

बुनियादी संग्रह (सहयोगी)

  • नून गनर नौका बावा (1997) (कबीर सुमन के साथ)
  • भिटर घोरी ब्रिस्टी (1998) (कबीर सुमन के साथ)
  • गनेबेला (2004) (श्रीकांतो आचार्य के साथ)
  • सुरर दोशोर (श्रीकांतो आचार्य के साथ)
  • शमोचन (टैगोर नृत्य नाटक - श्रीकांतो आचार्य और अन्य के साथ)

मिश्रित संग्रह

  • चोटो बोरो माइली (1996) (सुमन, नचिकेता, अंजन, लोपामुद्रा और इंदिरा गांधी)

पुरस्कार[संपादित करें]

उन्होंने गायन की अपनी अनूठी नाटकीय शैली के लिए कई पुरस्कार जीते, जिसे शास्त्रीय सहायता और स्वर की गुणवत्ता के साथ बनाया गया है। [3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Chakraborty, Saionee (2 अक्टूबर 2007). "Root route". The Telegraph. Calcutta, India. मूल से 3 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 मार्च 2020.
  2. "Music review Mone Rekho". The Telegraph (Calcutta). Calcutta, India. 4 अगस्त 2006. मूल से 21 अक्टूबर 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 10 अक्टूबर 2012.
  3. "Lopamudra Mitra Website". मूल से 13 जुलाई 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 अक्टूबर 2011.