लिंगवाद

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

लिंगवाद किसी व्यक्ति के लिंग के आधार पर पक्षपात या भेदभाव को मानना है।[1] चरम लिंगवाद यौन उत्पीड़न, बलात्कार और यौन हिंसा के अन्य रूपों को बढ़ावा दे सकता है।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 11 मई 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 अप्रैल 2013.
  2. [Forcible Rape Institutionalized Sexism in the Criminal Justice System| Gerald D. Robin Division of Criminal Justice, University of New Haven]