लक्ष्मण बलवन्त भोपटकर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

लक्ष्मण बलवन्त भोपटकर (१८८० - २४ अप्रैल १९६०) भारत के एक राजनेता, पत्रकार एवं प्रसिद्ध अधिवक्ता थे। वे १९३४ से १९४२ तक अखिल भारतीय हिन्दू महासभा के अध्यक्ष रहे। गांधी हत्या काण्ड में उन्होने वीर सावरकर का बचाव किया था।[1]

ल.ब. भोपटकर द्वारा लिखित या सम्पादित पुस्तकें[संपादित करें]

  • ऐतिहासिक कथापंचक
  • काँग्रेस व कायदेमंडळ
  • कुस्ती
  • केसरी प्रबोध (संपादन)
  • केळकर (संपादन)
  • दांडपट्टा
  • नवरत्नांचा हार (ऐतिहासिक शब्दचित्र)
  • पुणे सार्वजनिक सभा ज्युबिली अंक (संपादन)
  • महाराष्ट्र सांवत्सरिक (लेखक: श्री.म. माटे; संपादक : ल.ब. भोपटकर)
  • माझी व्यायाम पद्धती
  • मृत्यूच्या मांडीवर
  • रामशाहीर यांची कविता
  • श्रीबिपीनचंद्रपाल व्याख्याने
  • स्त्रियांचे व्यायाम
  • स्वराज्याची मीमांसा
  • हिंदू समाज दर्शन

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Flashbacks of a different age". मूल से 2 फ़रवरी 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 अगस्त 2015.